Loading...    
   


BHOPAL में प्रॉपर्टी के लिए बिल्डिंग की छत पर चढ़ा दामाद, 1 घंटे चला कूदने का ड्रामा - MP NEWS

भोपाल।
भोपाल के बैरागढ़ चीचली में रिटायर्ड फौजी की बेटी से लव मैरिज करने वाला लड़का ससुर को डराने के लिए बिल्डिंग की छत की मुंडेर पर चढ़ गया। वह कूदने की धमकी देने लगा। इसी दौरान वह छत से लटक गया। उसे बचाने के लिए पुलिस और परिवार के 6 से ज्यादा लोग हाथ-पैर पकड़कर उसे खींचते रहे। इसका वीडियो बनाकर उसे कूदने के लिए भी कहा गया। यह ड्रामा करीब 1 घंटे तक चलता रहा। इस दौरान पुलिस भी वहां मौजूद रही, लेकिन वह किसी की सुनने को तैयार नहीं था। दोनों पक्षों ने एक दूसरे से जमकर गाली-गलौज भी की।   
जानकारी के अनुसार, बैरागढ़ चीचली में रहने वाले एक रिटायर्ड फौजी ने अगस्त में अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। करीब तीन-चार दिन बाद उनकी 26 साल की बेटी एक युवक के साथ बैरागढ़ थाने पहुंची। उसने पुलिस को लिखकर दिया कि वह बालिग है और अपनी मर्जी की मालिक है। वह इसी लड़के के साथ रहना चाहती है। परिजन को पुलिस से इसकी सूचना मिली, जिसके बाद पिता ने बेटी से नाता तोड़ लिया।

दोनों परिवार एक ही मोहल्ले में रहते हैं। रिटायर्ड फौजी के दोस्त राजेश ने आरोप लगाया कि इसके बाद उनका दामाद महेंद्र उन्हें परेशान करने लगा। वह उनकी संपत्ति में हिस्सा चाहता है। ऐसे में आरोपी का आए-दिन परेशान करना, हंगामा करना और गाली-गलौज करना काम बन गया। इसी से परेशान होकर दो दिन पहले बैरागढ़ थाने में उसके खिलाफ एफआईआर भी कराई थी। पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। रविवार सुबह वह फिर हंगामा करने लगा। जब हम सब लोग उसके यहां पहुंचे तो वह डराने के लिए छत पर चढ़ गया और वहां से कूदने का नाटक करने लगा। इस दौरान उसकी घर की महिलाएं पुलिस और मुझ पर आरोप लगाते रहे।

महेंद्र छत पर चढ़कर कूदने की धमकी दे रहा था, दूसरी तरफ नीचे खड़े कुछ लोग उसका वीडियो बना रहे थे। इसमें से एक व्यक्ति उससे गाली-गलौज करते हुए कूद जाने के लिए कहता रहा। लोगों का कहना था- तू तो डरपोक है। कूद नहीं सकता। बस, नाटक करता रहता है। उन्होंने महेंद्र के परिजन पर भी उसके खिलाफ झूठे केस दर्ज कराने के आरोप लगाए।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची। हालांकि पुलिस से ज्यादा लोगों की संख्या थी। ऐसे में पुलिसकर्मी दोनों पक्षों को समझाने-बुझाने में लगे रहे, लेकिन कोई उनकी सुनने को तैयार नहीं था। दोनों ही पक्ष एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे। बाद में मौके पर पहुंची SDOP बैरागढ़ ने दोनों पक्षों को समझाइश दी और समझौता कर मामले को रफा-दफा कराया। राजेश ने बताया कि उनका रिटायर्ड फौजियों की मदद के लिए ग्रुप है। इलाके में रिटायर्ड फौजी बड़ी संख्या में रहते हैं। यहीं पर रहने वाले बेरोजगार आवारा लड़के लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाकर उनसे शादी कर लेते हैं। उसके बाद वे रिटायर्ड फौजी पर उनकी संपत्ति देने का दबाव बनाने लगते हैं।

18 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here