Loading...    
   


कैलाश विजयवर्गीय का लेटर पैड SATNA के शातिर कांग्रेस नेता के पास से मिला - INDORE NEWS

इंदौर
। मध्यप्रदेश के सतना जिले में गिरफ्तार किए गए समीर खान के पास से कई चौंकाने वाले दस्तावेज मिले हैं। इनमें भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित कई बड़े नेताओं के लेटर पैड शामिल है। समीर खान को एक नाबालिग लड़की का बलात्कार करने, आपत्तिजनक वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करने के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

समीर खान नाम और पहचान बदलने में माहिर है

यह मामला सतना जिले का है जहां समीर खान नाम का आरोपी गिरफ्तार हुआ। बताया जा रहा है कि आरोपी ने अपना नाम बदलकर मंसूबों को अंजाम दिया। इस युवक की पहचान समीर उर्फ सिकंदर उर्फ अतीक मंसूरी के नाम से की गई है। वहीं इसने हिंदू लड़की से शादी करने के लिए अपना नाम भी बदल दिया था। 

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का लेटर पैड मिला

समीर खान खुद को कांग्रेस नेता बताता है। पुलिस का कहना है कि समीर खान के ठिकानों से कई फर्जी दस्तावेज जब्त हुए हैं। पुलिस ने 4 और केस दर्ज किए हैं। सतना पुलिस ने 2 पेन कार्ड एक समीर खान और दूसरा अतीक मंसूरी के नाम से जब्त किया। बीजेपी के कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय के नाम का लेटर पैड भी इसके के पास से प्राप्त हुआ है। 

मामला गंभीर, जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम गठित

इस सनसनीखेज मामले की जांच के लिए SIT गठित की गई है। सतना एसपी रियाज इकबाल ने बताया कि समीर खान उर्फ सिकंदर उर्फ अतीक मंसूरी उर्फ गिनी के विरुद्ध चार और मुकदमे सतना शहर की सिटी कोतवाली और कोलगवां थाना पुलिस ने दर्ज किए हैं। इनमें से एक मुकदमा फर्जी तरीके से पासपोर्ट और शस्त्र लाइसेंस हासिल करने का है। साथ ही 2 मामले सूदखोरी के हैं।

समीर के घर से कई और नेताओं के लेटर पैड मिले

इसके घर से कई बड़े नेताओं के लेटर पैड मिले हैं। बताया जा रहा है कि यह इन लेटर पैड का इस्तेमाल रेलवे टिकट के लिए करता था। आरोपी के पास से बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय, पूर्व विधायक शंकरलाल तिवारी, सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा, सांसद गणेश सिंह, सीधी सांसद रीति पाठक, पूर्व विधायक नीलम अभय और यादववेंद्र सिंह के हैं।

2011 में सतना की हिंदू लड़की से शादी, गिरफ्तारी से पहले मोबाइल, लैपटॉप सब फॉर्मेट कर दिए

आरोपी अतीक मंसूरी उर्फ सिकंदर ने वर्ष 2011 में सतना की एक हिंदू लड़की से आर्य समाज मंदिर, हिमगिरि एन्केलव, मुकुंदपुर- 2 नई दिल्ली में शादी की थी। वह हाई सिक्योरिटी वाले मोबले हैंडसेट का उपयोग करता था। नाबालिग लड़की से चल रहे विवाद के कारण उसने अपने फोन फॉर्मेट कर दिए थे। पुलिस ने उसके फोन, लैपटॉप, हार्ड डिस्क और डीवीआर जब्त कर लिए हैं। अब कोशिश की जा रही है कि डाटा रिकवर कराया जा सके।

SIT बैंक खातों की जांच करेगी 

आरोपी के पास से लाखों के ब्लैंक चेक भी मिले हैं, अब एसआईटी उसके बैंक खातों से संबंधित दस्तावेज की भी जांच करेगी। पुलिस को बैंक खातों और लॉकर के बारे में भी पता चला है। इन खातों से ट्रांजेक्शन की जांच की जा रही है। इसके पास से 50 लाख रुपये के जो ब्लैंक चेक मिले हैं, उनमें अधिकांश महिलाओं के बैंक खाते के हैं। आरोपी सूदखोरी का भी धंधा करता था। उसकी जमीन के कागजात तो वैध है, लेकिन निर्माण अवैध है। इसके साथ ही नगर निगम आयुक्त को पत्र लिख कर अवैध निर्माण पर वैधानिक कार्रवाई करने की सिफारिश की गई है।

15 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here