Loading...    
   


चयनित शिक्षकों ने डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए ग्वालियर में प्रदर्शन किया / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। कोरोना कंट्रोल के लिए ट्रांसपोर्टेशन पर लगाए गए प्रतिबंध हटा लिए गए हैं परंतु ट्रांसपोर्टेशन के नाम पर रोक दिया गया पात्रता परीक्षा पास शिक्षकों का डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन अब तक शुरू नहीं हुआ है। हालात यह है कि परीक्षा पास करने के लिए पढ़ाई करनी पड़ी और अब डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए सड़क पर उतरकर लड़ाई करनी पड़ रही है।

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि हम 19200 उच्च माध्यमिक और 11374 माध्यमिक चयनित शिक्षक हैं। मध्यप्रदेश में 2011 के बाद 2018 में 8 वर्ष पश्चात शिक्षक भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ हुई जो आज दिनांक तक पूर्ण नहीं हुई। 1 जुलाई 2020 से 3 जुलाई 2020 तक दस्तावेज सत्यापन के वेरिफिकेशन का कार्य भी हुआ। 

फिर लोक परिवहन की सुगम व्यवस्था न होने का कारण बताकर डीपीआई ने वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को रोक दिया। अब प्रशासन द्वारा 19/08/2020 को आदेश पारित किया गया है कि मध्यप्रदेश में पुनः पूरी क्षमता के साथ परिवहन प्रारंभ किया जाए।

माननीय हम प्रदेश के लगभग 30594 युवा बेरोजगारी से तंग एवं डीपीआई के ढुलमुल रवैया और शिक्षा मंत्री की बेरुखी से परेशान है। हम चयनित और वेटिंग प्राप्त अभ्यर्थियों द्वारा DPI और शिक्षा मंत्री से कई बार संपर्क साधा गया लेकिन हमें गुमराह किया जा रहा है एवं भर्ती के संदर्भ में स्पष्ट कुछ नहीं बताया जा रहा है। 

23 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

चेक बाउंस होने पर क्या कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं, क्या थाने में FIR लिखवा सकते हैं
विवाहित महिला को भगा ले जाने वाले के खिलाफ किस धारा के तहत मामला दर्ज होता है
दुनिया के सबसे धनवान लोगों की कुर्सी किस लकड़ी से बनी होती है, यहां पढ़िए
इंदौर की लड़की से लंदन वाले BF ने गिफ्ट के नाम पर 4 लाख रूपये ठग लिए
विश्व मच्छर दिवस: पढ़िए कुछ मजेदार चौंकाने वाली जानकारियां
गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बेरोजगारों की आत्महत्या पर विवादित बयान
मध्य प्रदेश के 6 संभागों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी
इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया
क्या हम अपने मकान को स्मार्ट होम बना सकते हैं, पढ़िए क्या चेंज कर सकते हैं
क्या आपको सुरक्षा के लिए दूसरे पर हमला करने का हक है, पढिए कानून क्या कहता है
इंदौर की प्राइवेट पार्टियों में नाबालिग लड़कियां


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here