Loading...    
   


3 लुटेरी दुल्हन, 4 महीनों में 9 शादियां, गैंग सहित गिरफ्तार / BHOPAL NEWS

भोपाल। शादी करने के बाद ससुराल पक्ष के जेवर और रकम लेकर फरार होने वाली तीन महिलाओं को भोपाल क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इस अंतरराज्यीय गिरोह के सरगना और चार दलालों को भी पकड़ा है। गिरोह का सरगना पहले सिक्योरिटी गार्ड था। लॉकडाउन में नौकरी छूटी तो वह एक महिला के संपर्क में आकर इस धंधे में उतर गया। महज 3 -4 महीने के भीतर उसने नौ शादियां करवाकर वर पक्ष से लाखों रुपए ऐंठ लिए। 
एएसपी गोपाल धाकड़ के मुताबिक कालापीपल निवासी कामता प्रसाद ने शिकायत की थी कि उन्हें शादी के लिए एक अच्छी युवती की तलाश थी। इस बीच भोपाल निवासी हिंदू सिंह ने उन्हें दिनेश पांडे से मिलवाया। दिनेश ने पूजा उर्फ रिया से मिलवाया। दिनेश ने शादी करवाने के एवज में 85 हजार रुपए लिए और सीहोर में शादी की लिखा-पढ़ी करवा दी। शादी के 8-10 दिन बाद दिनेश ने कॉल कर बताया कि पूजा की बहन का ऑपरेशन है। पूजा को मायके भेज दीजिए। भरोसे में आकर पूजा घर से कुछ और पैसे लेकर निकली, फिर नहीं लौटी। फोन नंबर भी बंद कर लिया। 

दिनेश से बात करने पर पता चला कि उसने दूसरी शादी कर ली है। शिकायत के बाद पुलिस ने गिरोह के 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। दिनेश पांडे से पुलिस ने शादियों के फर्जी एग्रीमेंट, असल और नकली आधार कार्ड भी जब्त किए हैं। शादी के समय युवती को जिस नाम से वर पक्ष से मिलवाया जाता था, दिनेश उसी नाम से युवती का आधार कार्ड तैयार कर लेता था। उनके कब्जे से पुलिस ने 1.10 लाख रुपए भी जब्त किए हैं।

सोहागपुर के जगदीश मीणा को राजू ठाकुर के जरिए पूजा उर्फ टीना धाकड़ से मिलवाया गया था। 22 मई को पूजा ने जगदीश से शादी कर ली। 15 दिन बाद भोपाल आई और फिर नहीं लाैटी। इस गिरोह ने जगदीश से 60 हजार रुपए ऐंठ लिए।

गिरोह का सरगना दिनेश पांडे, दलाल तेजूलाल, वीरेंद्र धाकड़, सलमान खान और विक्रम। लुटेरी दुल्हन पूजा उर्फ रिया उर्फ टीना धाकड़, सीमा पाटीदार उर्फ सीमा तिवारी और रीना उर्फ सुल्ताना। राजगढ़ निवासी प्रेम सिंह राजपूत और शाजापुर के कालापीपल निवासी मेहरबान सिंह से भी गिरोह ने दुल्हनों के जरिए हजारों रुपए ऐंठ लिए। अब इस मामले में पुलिस को गिरोह के आठ अन्य सदस्यों की भी तलाश है। इनमें छह पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं।

टीआई अजय मिश्रा ने बताया कि इसके बाद वह हिंदू सिंह के जरिए रीना उर्फ सुल्ताना के संपर्क में आया। 21 मार्च 2020 को करवाई गई पहली शादी में वह मददगार बना। उसके हिस्से में 50 हजार रुपए आए। फिर उसने अन्य दलालों के साथ मिलकर यही काम शुरू कर दिया। पुलिस के मुताबिक रीना, सीमा और पूजा ने अब तक तीन-तीन शादियां करना कबूल किया है। चार फरियादी मिल गए हैं, जिनकी शिकायत पर गिरोह के सभी सदस्यों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में चार केस दर्ज कर लिए गए हैं। जल्द ही पांच केस और दर्ज किए जाएंगे।

08 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here