Loading...    
   


इंदौर में कोरोना टेस्ट के लिए 29 जुलाई को सैंपल दिया रिपोर्ट 23 जुलाई को ही आ गयी / INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर के एमटीएच अस्पताल में COVID -19 का एक अजीब कारनामा सामने आया। यहां मरीज ने सैंपल 29 जुलाई को दिया था, लेकिन उसकी रिपोर्ट 23 जुलाई को ही आ गई। अस्पताल प्रबंधन ने उसे निगेटिव बताकर डिस्चार्ज भी कर दिया। दो दिन तक कोरोना संक्रमितों के साथ वार्ड में भर्ती रहा मरीज हैरान है। अब अस्पताल प्रबंधन मामला दिखवाने की बात कह रहा है।  

नूरानी नगर निवासी 29 वर्षीय मुस्तफा बादशाह ने बताया कि सांस लेने में दिक्कत के बाद 29 जुलाई को वे सुदामा नगर स्थित फीवर क्लिनिक गए थे। वहां कोरोना जांच के लिए उनका सैंपल भी लिया गया। डॉक्टर ने उन्हें एमटीएच अस्पताल में भर्ती होने का कहा। साथ ही बताया कि तीन-चार दिन में रिपोर्ट आएगी तो आपको सूचित कर दिया जाएगा। मुस्तफा 29 जुलाई को ही एमटीएच अस्पताल में भर्ती हो गए। मुस्तफा के मुताबिक 30 जुलाई को दोपहर में एमटीएच अस्पताल के स्टाफ ने उन्हें बताया कि कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। आपको तुरंत कोरोना के लिए बनाए गए रेड जोन वार्ड में शिफ्ट होना होगा। फिर उन्हें वार्ड 10 से वार्ड 13 में शिफ्ट कर दिया गया जहां अन्य कोरोना संक्रमित मरीज भी भर्ती थे।

एक अगस्त को स्टाफ ने बताया कि आपकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई है। आपको आज ही डिस्चार्ज किया जाएगा। मुस्तफा डॉक्टरों के पास पहुंचे और बताया कि मेरा सैंपल ही नहीं लिया गया तो रिपोर्ट कैसे आ गई, लेकिन किसी ने उत्तर नहीं दिया। आखिर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। उस समय उन्हें जो डिस्चार्ज लेटर दिया गया, उसमें लिखा है कि मरीज का 22 जुलाई को जो सैंपल लिया गया था, उसकी रिपोर्ट 23 को पॉजिटिव आने के बाद 29 को भर्ती किया गया था। मुस्तफा का कहना है कि 22 जुलाई को उनका सैंपल लिया ही नहीं गया तो उसकी रिपोर्ट 23 जुलाई को कैसे आ सकती है।

मुस्तफा ने बताया कि दो दिन तक वे संक्रमित मरीजों के साथ एमटीएच अस्पताल में भर्ती रहे। उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बावजूद न तो उनके घर पर किसी स्वजन का सैंपल लिया गया, न ही घर पर सैनिटाइजेशन हुआ।

इन्होने यह कहा  

हो सकता है मामले में कुछ भ्रम हो गया हो। हजारों रिपोर्ट होती हैं। मामले को दिखवाते हैं। मरीज एक पत्र अधीक्षक के नाम से दे दे। जांच के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। -डॉ. वीपी पांडे, (जिनकी यूनिट में मरीज भर्ती था)

05 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

विदिशा की बेटी UPSC सिविल सर्विस में ऑल इंडिया 41वीं रैंक
मप्र कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन
मुख्यमंत्री को राखी बांधते ही कोरोना पॉजिटिव हो गए मंत्री की पत्नी और पुत्र
भोपाल के अनमोल जैन ने UPSC 14वीं तथा मप्र में टॉप रैंक हासिल की
मध्यप्रदेश में कोरोना पीड़ितों की संख्या 35000 के पार, 3336 इलाके संक्रमित
आत्मनिर्भर योजना बिना गारंटी BANK LOAN
इंदौर के पेट्रोल पंप कर्मचारी का बेटा कलेक्टर बनेगा, UPSC में 26वी रैंक
मध्य प्रदेश में रोजगार मामलों के लिए मंत्री परिषद समिति गठित
इंदौर में नीली जींस और लाल टीशर्ट वाली युवती की हत्या का राज खुला


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here