Loading...    
   


कमलनाथ मुझे बैठने को कुर्सी तक नहीं देते थे क्योंकि मैं दलित हूं: मंत्री इमरती देवी / MP NEWS

ग्वालियर। मध्यप्रदेश शासन की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेता सामंती विचारधारा के हैं और जातिगत भेदभाव करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि जब 'कमलनाथ मुख्यमंत्री थे और मैं उनकी कैबिनेट मंत्री, तब भी वह मुझे बैठने के लिए कुर्सी नहीं देते थे, क्योंकि मैं अनुसूचित जाति वर्ग से हूं।

मंत्री श्रीमती इमरती देवी गुना में दलित परिवार की पुलिस द्वारा पिटाई के मामले में कांग्रेस द्वारा भाजपा पर दलित विरोधी होने के आरोपों का जवाब दे रहीं थीं। श्रीमती इमरती देवी ने कहा कि ने कहा कि अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग पूरी तरह से भाजपा के साथ है। भाजपा ने वास्तविकता में अनुसूचित वर्ग के हित में कई कार्य किए हैं। इसका प्रमाण उपचुनाव में सभी को मिल जाएगा। उन्होंने बताया कि अनुसूचित वर्ग के लिए डबरा में 1 हजार आवासों का निर्माण किया जा रहा है।

कांग्रेसी यदि दलित हितैषी है तो 2 अप्रैल के प्रकरण वापस क्यों नहीं लिए

उन्होंने पूर्व मुख्य मंत्री कमल नाथ से सवाल किया कि कांग्रेस स्वयं को वोटों के खातिर स्वयं को दलित हितैषी बता रही है। अगर उन्हें इस वर्ग की इतनी चिंता थी तो सवां साल में 2 अप्रैल की हिंसा में दर्ज हुए प्रकरण वापस क्यों नहीं लिए?

कांग्रेसी यदि दलित हितैषी है तो फूल सिंह बरैया को राज्यसभा में क्यों नहीं भेजा

दिग्विजय सिंह के स्थान पर फूल सिंह बरैया को राज्यसभा क्यों नहीं भेजा? गुना की घटना के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान तत्काल एक्शन लेते हुए एडीजीपी, कलेक्टर व एसपी को हटा दिया है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए उच्चस्तरीय कार्रवाई की जा रही है।

17 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मांसाहारी जानवर हमेशा शाकाहारी जानवरों का शिकार क्यों करते हैं 
SBI खाताधारक सावधान! फर्जी वेबसाइट पर गई है, खातों से पैसे गायब हो रहे हैं 
ग्वालियर किले से महिमा कूदी नहीं थी, बॉयफ्रेंड ने धक्का दिया था 
इंदौर में 10 नए इलाकों में कोरोनावायरस का संक्रमण मिला 
खबर का असर: PHE भिंड के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर सस्पेंड 
MPPEB ने सभी परीक्षाओं को रीशेड्यूल करने प्रस्ताव भेजा
DAVV INDORE: 90 कोर्स में एडमिशन शुरू, कोर्स की लिस्ट यहां देखें
MP BOARD 12th: चूक गए छात्रों के लिए विशेष परीक्षा कार्यक्रम


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here