Loading...    
   


बारिश के मौसम में वज्रपात (बिजली) से बचने के लिए क्या करें / राकेश सिंह IAS से समझिए / TIPS for RAINY SEASON

मानसून 2020 की शुरुआत हो चुकी है। समुद्र से पानी भरकर आए काले बादल आधे भारत पर छा चुके हैं। बाजार की भाषा में बोले तो बरसात का सीजन शुरू हो गया है। यह मौसम बड़ा सुहावना होता है लेकिन इस मौसम में तेज आंधी-तूफान के साथ बिजली गिरने की संभावनाएं बहुत ज्यादा होती है। बिजली गिरने से जान-माल का नुकसान भी होता है। यदि कुछ सावधानी बरती जाए तो काफी हद तक बिजली गिरने से होने वाली हानियों से बचा जा सकता है। 

बरसात में बिजली से बचने के लिए ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

अगर आसमान में बिजली कडक़ रही है और आप घर के बाहर हैं तो सबसे पहले सुरक्षित (मजबूत छत) वाली जगह तक पहुंचने का प्रयास करें।
अगर ऐसा संभव नहीं है तो तुरंत पानी, बिजली के तारों, खंभों, हरे पेड़ों और मोबाइल टॉवर आदि से दूर हट जाएं।
आसमान के नीचे हैं तो अपने हाथों को कानों पर रख लें, ताकि बिजली की तेज आवाज़ से कान के पर्दे न फट जाएं।
अपनी दोनों एडिय़ों को जोडक़र जमीन पर पर उकड़ू बैठ जाएं।
अगर इस दौरान आप एक से ज्यादा लोग हैं तो एक दूसरे का हाथ पकडक़र बिल्कुल न रहें, बल्कि एक दूसरे से दूरी बनाकर रखें। 

छतरी या सरिया जैसी कोई चीज हैं तो अपने से दूर रखें, ऐसी चीजों पर बिजली गिरने की आशंका सबसे ज्यादा होती है।
पुआल आदि के ढेर से दूर रहें, उसमें आग लग सकती है।
आकाशीय बिजली की प्रक्रिया कुछ सेंकेड के लिए होती है, लेकिन इसमें इतने ज्यादा बोल्ट का करंट होता है कि आदमी की जान लेने के लिए काफी होता है, क्योंकि इसमें बिजली वाले गुण होते हैं तो ये वहां ज्यादा असर करती है, जहां करेंट का प्रवाह होना संभव होता है। आकाश से गिरी बिजली किसी न किसी माध्यम से जमीन में जाती है और उस माध्यम में जो जीवित चीजें आती हैं, उनको नुकसान पहुंचता है। 
यह जानकारी भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी श्री राकेश सिंह ने दी जो मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में कलेक्टर पद पर पदस्थ है।

15 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

DIGVIJAY SINGH ने बताया CM शिवराज सिंह उनसे नाराज क्यों हैं
घर से पैसे चुराने पर पिता ने बेटे को पेड़ से बांधकर मरते दम तक पीटा
HATCHBACK CAR Altroz: मात्र ₹5555 emi में आपकी
समानता का अधिकार, कर्मचारियों पर कब लागू होता है
MADHYA PRADESH: 2 जिलों में कलेक्टर पद पर नए अफसरों की पदस्थापना
SC-ST EMPLOYEE को प्रमोशन में आरक्षण: केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एप्लीकेशन फाइल की
SUSHANT SINGH: कोई फांसी लगाकर सुसाइड करने से पहले जूस क्यों पिएगा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here