Loading...    
   


BHOPAL में डिप्टी कमिश्नर का एजेंट रिश्वत लेते गिरफ्तार: लोकायुक्त / MP NEWS

भोपाल। लोकायुक्त पुलिस ने दावा किया है कि एक छापामार कार्रवाई के दौरान उसने डिप्टी कमिश्नर लेबर श्री एसएस दीक्षित के एजेंट विपुल शर्मा को ₹100000 रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। डिप्टी कमिश्नर एसएस दीक्षित पर आरोप है कि उन्होंने 1500000 रुपए का भुगतान स्वीकृत करने के बदले 10% (₹150000) रिश्वत मांगी थी। एसएस दीक्षित ने डील करने के लिए विपुल शर्मा को भेजा था।

डिप्टी कमिश्नर लेबर एसएस दीक्षित के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज

भोपाल लोकायुक्त एसपी मनु व्यास ने बताया कि ग्वालियर, जबलपुर, इंदौर और भोपाल के श्रमोदय विद्यालय का संचालन मप्र संनिर्माण कर्मकार मंडल करता है। मुंबई में रहने वाले गौरव शर्मा ने भोपाल लोकायुक्त को शिकायत की थी कि उनकी फर्म के पास श्रमोदय विद्यालय, बेटमा इंदौर की मेस का ठेका है। स्कूल के हॉस्टल में 800 बच्चे हैं। फर्म को मेस के संचालन के लिए 15 लाख के बिल का भुगतान किया जाना था। सब कुछ नियम अनुसार होने के बावजूद उनका भुगतान रोक दिया गया था। इसी संदर्भ में उन्होंने डिप्टी कमिश्नर एसएस दीक्षित से मुलाकात की लेकिन उसके बाद भी भुगतान नहीं मिला।

लोकायुक्त पुलिस के पास की गई शिकायत में गौरव शर्मा ने बताया कि डिप्टी कमिश्नर श्री एसएस दीक्षित ने 1500000 रुपए के भुगतान के बदले 10% यानी ₹150000 रिश्वत की मांग की थी। यह धमकी भी दी गई थी कि यदि रिश्वत नहीं दी गई तो पेमेंट रोक दिया जाएगा। लोकायुक्त पुलिस ने इस शिकायत की अपने स्तर पर जांच की और जांच में शिकायत सही पाए जाने पर लोकायुक्त पुलिस ने छापामार कार्रवाई की रणनीति बनाई। 

डिप्टी कमिश्नर की तरफ से श्रमोदय विद्यालय भोपाल में मेस चलाने वाले विपुल शर्मा बातचीत कर रहे थे। लोकायुक्त पुलिस ने विपुल शर्मा को ट्रैप करने का प्लान किया।लोकायुक्त पुलिस के कहने पर फरियादी गौरव शर्मा ने रिश्वत की पहली किस्त के तौर पर एक लाख रुपए देने के लिए विपुल शर्मा को क्राइम ब्रांच थाने के पास बुलाया। जब विपुल पैसे लेने पहुंचा तो पहले से घेराबंदी कर बैठी लोकायुक्त पुलिस की टीम ने रिश्वत लेते हुए उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। विपुल शर्मा के बयान के आधार पर डिप्टी कमिश्नर एसएस दीक्षित के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

20 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

दवा के पैकेट में 2 टेबलेट के बीच ज्यादा गैप क्यों होता है, सिर्फ 1 टैबलेट के लिए 10 टेबलेट जितना बड़ा पैकेट क्यों देते हैं
कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर: NPS छोड़कर OPS का लाभ पाने का विकल्प खुला
RGPV: डिप्लोमा फॉर्मेसी व इंजीनियरिंग सहित सभी प्रायोगिक परीक्षाएं स्थगित
ग्वालियर में किराना व्यवसायी लापता, सागरताल पर लावारिस कार मिली
RAISEN से BF संग भागी नाबालिग को इंदौर पुलिस ने पकड़ा तो एसिड पी लिया
वैज्ञानिक कैसे पता लगाते हैं कि आज कितनी वर्षा हुई, आइए जानते हैं
मध्यप्रदेश में कांग्रेस के 92 विधायक हैं लेकिन वोट 93 मिले, ऐसा कैसे
SBI में FD-RD की बजाए SBI ETF में निवेश कीजिए, दुगना ब्याज (9%) मिलेगा
कर्मचारी द्वारा दोषी की संपत्ति कुर्क होने से बचाना IPC के तहत दंडनीय अपराध है
पैसेंजर ट्रेन कब से चलेंगी, तारीख घोषित, तैयारियां शुरू
मप्र शासकीय कर्मचारियों को समयमान वेतनमान के नए नियम लागू
कील पानी में डूब जाती है लेकिन लोहे का जहाज तैरता रहता है, ऐसा क्यों
BREAKING / DIG के डाइट प्लान से मात्र 4 दिन में CORONA पॉजिटिव से नेगेटिव, 45 दिन में एक भी पुलिसकर्मी पॉजिटिव नहीं
मध्यप्रदेश में स्कूलों की ऑनलाइन क्लास पर प्रतिबंध, आदेश जारी
MP CORONA: फुल स्पीड पर भोपाल-इंदौर, 55-55 पॉजिटिव, 4-4 मौतें
CM सहित MP के सभी 205 विधायकों पर कोरोना का खतरा
MP BOARD 10th HIGH-SCHOOL RESULT की तारीख तय


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here