Loading...    
   


दिग्विजय सिंह ने लॉक डाउन में फंसे कश्मीरी छात्रों को ईद से पहले घर जाने की अनुमति दिलाई / MP NEWS

भोपाल। भारत के विभिन्न राज्यों में फंसे कश्मीरी छात्रों को घर जाने की अनुमति मिल गई है। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह ने इसके लिए काफी प्रयास किए। दिग्विजय सिंह ने कश्मीरी छात्रों के लिए विशेष रूप से भारत सरकार के गृह मंत्री श्री अमित शाह को पत्र लिखा था। दिग्विजय सिंह की कोशिशों के कारण कश्मीरी छात्र अपने घर पर ईद मना सकेंगे।

मध्य प्रदेश में करीब 600 छात्र

दिग्विजय सिंह की मांग पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कश्मीरी छात्रों को वापस कश्मीर जाने की अनुमित प्रदान कर दी है और मध्य प्रदेश में फंसे करीब 600 विद्यार्थियों को 9 मई को कश्मीर भेजा जाएगा। पहले फेज में हरियाणा और चंडीगढ़ भेजा जा रहा है। जम्मू-कश्मीर के भोपाल में 32, इंदौर में 54, ग्वालियर में 17 छात्र समेत करीब 600 छात्र लॉकडाउन की वजह से मध्य प्रदेश के दूसरे जिलों में फंसे हैं। 

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर इन्हें भेजने की मांग की थी कि लॉकडाउन में फंसे कश्मीरी छात्रों को रमजान में जम्मू-कश्मीर भेजने की व्यवस्था की जाए। लॉकडाउन की वजह से देश के विभिन्न हिस्सों में कश्मीरी छात्र फंसे हैं और हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और अन्य राज्यों में फंसे हुए हैं। 

दिग्विजय ने पत्र में लिखा था कि जिस प्रकार काशी से दक्षिण भारत के 1000 तीर्थयात्रियों को और राजस्थान के कोटा से उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के हजारों छात्रों को उनके राज्यों तक भेजने की अनुमति और प्रबंध किए गए हैं। उसी प्रकार मध्यप्रदेश के विभिन्न शहरों में फंसे जम्मू-कश्मीर के छात्रा-छात्राओं को भी उनके राज्य में वापस भेजने की व्यवस्था करने हेतु आवश्यक कदम उठाए जाएं।

07 मई को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

इंडक्शन कुकर गर्म क्यों नहीं होता जबकि हीटर गर्म हो जाता है
यदि जबरदस्ती नशे की हालत में अपराध हो जाए तो क्या सजा से माफी मिलेगी 
पूरे भारत में आंधी-तूफान और बारिश की चेतावनी, 72 घंटे मौसम खराब रहेगा 
सोशल मीडिया पर बहन की फोटो देख भाई ने जीजा की हत्या कर दी 
मध्य प्रदेश के पंचायत विभाग ने 27 जिलों में संविदा कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी 
मध्य प्रदेश:कोरोना 35वें जिले में पहुंचा, आज 2750 में से 91 पॉजिटिव
पूरे भारत में 10वीं की परीक्षाएं रद्द: HRD भारत सरकार का ऐलान
जबलपुर में नाम के पहले अक्षर के अनुसार ऑफिस जायेंगे कर्मचारी 
शराब के बाद अब भारत में सार्वजनिक परिवहन शुरू करने की तैयारी 
ठेकेदारों और सरकार के बीच सुलह: शराब दुकानें खुल गईं, अब कोरोना की परवाह नहीं
पिता ने क्वॉरेंटाइन से लौटे बेटे की हत्या कर दी, ताकि गांव में किसी और को कोरोना ना हो जाए 
कमलनाथ को जवाब देना चाहिए कि वह दिग्विजय सिंह को क्यों झेलते रहे: प्रद्युम्न सिंह तोमर 
शिवराज सिंह ने कमलनाथ और जीतू पटवारी के सभी जन भागीदारी अध्यक्षों को हटाया 
जबलपुर कलेक्टर की हेयर कटिंग सोशल मीडिया पर वायरल 
मध्य प्रदेश में आबकारी के बाद आरटीओ ओपन, मैदान में तैनाती के आदेश
भोपाल के बाद एलजी गैस कांड: अब तक 8 लोगों की मौत 5000 से ज्यादा प्रभावित
ग्वालियर आउट ऑफ कंट्रोल: शराब की दुकानों के साथ पूरा बाजार भी खुल गया 
बर्फ कठोर होता है फिर पानी में डूबता क्यों नहीं, यहां पढ़िए 
अपराधी यदि आपके बच्चे को किडनैप कर आपसे घोटाला या चोरी करवाए, तो दोषी कौन माना जाएगा 
जबलपुर कलेक्टर की हेयर कटिंग सोशल मीडिया पर वायरल 
2018 में बंद किए गए शिवराज सिंह के फोटो वाले संबल योजना कार्ड फिर से एक्टिव 
पदोन्नति से वंचित शिक्षकों को है पदनाम की दरकार, मंत्रिमंडल के विस्तार पर निगाहें


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here