Loading...    
   


पूरे भारत में आंधी-तूफान और बारिश की चेतावनी, 72 घंटे मौसम खराब रहेगा / INDIAN WEATHER FORECAST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की दहशत और लॉक डाउन की मार से घायल भारत के 27 राज्यों में से 20 राज्यों की जनता एक नई परेशानी का शिकार हो सकती है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि भारत के कम से कम 20 राज्यों में धूल भरी आंधी, तूफानी बारिश, तेज हवाएं ओलावृष्टि हो सकती है। कुल मिलाकर मौसम वैज्ञानिकों ने स्पष्ट कर दिया है कि भारत के चारों तरफ आसमान में कुछ इस तरह की हलचल हो रही है कि उसका सटीक अनुमान नहीं लगाया जा सकता। 

अगले 72 घंटे मौसम खराब रहेगा

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि कई राज्‍यों में भारी बारिश / गरज के साथ छींटे गरज-चमक, ओलावृष्टि की खबरें सामने आईं हैं। अगले तीन दिन अथवा 72 घंटों तक इसी प्रकार का मौसम बना रहने की संभावना है। इसके चलते कई शहर प्रभावित होंगे।

इन राज्यों में सबसे ज्यादा परेशानी

पूर्वानुमान में कहा गया कि पश्चिम बंगाल, सिक्किम, ओडिशा, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है। आइएमडी ने कहा कि गरज के साथ आंधी तूफान, बिजली की आंधी, हवाओं के साथ बाकी क्षेत्रों में खराब मौसम जनजीवन प्रभावित कर सकता है।

यहां देखें प्रभावित होने वाले राज्‍यों की सूची

जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में अगले तीन दिनों के दौरान तेज आंधी व बारिश का क्रम जारी रहने की संभावना है। पूर्व और उत्तर-पूर्व के लिए अगले तीन से चार दिनों के लिए संभावना है कि यहां असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल की पहाड़ियों और सिक्किम पर गरज के साथ तेज बारिश हो सकती है। इसके अलावा ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार और झारखंड के मैदानी इलाकों में गरज के साथ मूसलाधार बारिश हो सकती है। इन राज्‍यों में Thundersqualls (हवा की गति 50-60 किमी / घंटा) रहेगी और कई स्‍थानों पर ओलावृष्टि होने की संभावना है। हरियाणा राज्‍य के अंबाला, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, गुरुग्राम, हिसार, झज्जर, जींद, कैथल, करनाल, कुरुक्षेत्र, पंचकुला, पानीपत, सोनीपत, यमुनानगर, पानीपत, रीवापत, आदि जिलों में तेज हवाओं के साथ धूल भरी आंधी चलने की संभावना है। IMD यानी मौसम विभाग ने संकेत दिया है कि अगले तीन दिनों के दौरान विदर्भ पर और दो दिनों के लिए तेलंगाना के ऊपर हीट वेव की स्थिति बनी रह सकती है। 

संक्षेप में समझें प्री-मानसून का यह है सिस्‍टम

एक पश्चिमी विक्षोभ पश्चिम पाकिस्तान से उत्तर-पश्चिम भारत के रास्ते पर पहुँच गया है। एक चक्रवाती सिस्‍टम हरियाणा के ऊपर मंडरा रहा है, जहाँ से पश्चिम-पूर्वी प्रभाव उभरा है, जो पूरे उत्तर-पूर्व बांग्लादेश तक फैला हुआ है। यह उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल के तक असर पैदा कर सकता है। प्री-मानसून के संभावित रूप से प्रभावित होने वाले इलाकों में ये सब आते हैं। इस समय बंगाल की खाड़ी में चक्रवात किसी भी समय विकसित हो सकता है लेकिन इसकी संभावनाएं कम हैं। लेकिन इसके समानांतर ही प्री-मॉनसून थंडरस्टॉर्म गतिविधि पर अब सारा फोकस आ गया है।

06 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ज्योतिर्लिंग और शिवलिंग में क्या कोई अंतर है या सिर्फ नाम अलग-अलग हैं 
मध्य प्रदेश के पंचायत विभाग ने 27 जिलों में संविदा कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी
कोरोना दहशत: पिता ने क्वॉरेंटाइन से लौटे बेटे की हत्या कर दी, ताकि गांव में किसी और को कोरोना ना हो जाए 
यदि 7 साल से कम का बच्चा चोरी करे तो क्या उसके खिलाफ FIR दर्ज होगी, पढ़िए 
मध्य प्रदेश: निवाड़ी विलोपित, सतना शामिल, 34 जिलों में इंफेक्शन, 2942 मरीज 
यदि कोई विक्षिप्त व्यक्ति अपराध करे तो क्या उसे सजा नहीं होगी, यहां पढ़िए 
शिवपुरी में SDM का एक्सीडेंट, आगे चल रहे वाहन में पीछे से जा घुसी स्कॉर्पियो 
कोरोना के कारण शशांक मिश्रा IAS को उज्जैन कलेक्टर के पद से हटाया 
जबलपुर में नाम के पहले अक्षर के अनुसार ऑफिस जायेंगे कर्मचारी 
हवा फेंकने वाला पंखा गंदा क्यों हो जाता है, जबकि हवा से धूल साफ होती है 
CM योगी आदित्यनाथ के पिता की फर्जी अस्थियां विसर्जित करने गए BJP विधायक, UP लौटते ही गिरफ्तार
एमपी बोर्ड के शेष पेपर की तैयारी कर चुके स्टूडेंट्स के लिए गुड न्यूज़ 
MPPSC: हाईकोर्ट ने दिव्यांगों को कुल कैडर इसटैन्थ का 6% आरक्षण देने के आदेश दिए
भोपाल में पड़ोसी के अंतिम संस्कार में शामिल हुए 1 परिवार के 6 सदस्य कोरोना पॉजिटिव
ग्रीष्मावकाश में कोरोना ड्यूटी पर लगाए शिक्षकों को मिले अर्जित अवकाश का लाभ 
कमलनाथ को जवाब देना चाहिए कि वह दिग्विजय सिंह को क्यों झेलते रहे: प्रद्युम्न सिंह तोमर 
खड़ी कार में 1 घंटा AC चलाने पर कितना पेट्रोल खर्च होगा, पढ़िए 
भोपाल में क्या खुलेगा, क्या बंद रहेगा, कलेक्टर ने लिस्ट जारी की 
सरकारी कर्मचारी का आईडी कार्ड ही ई-पास मान्य 
मध्यप्रदेश में शराब ठेकेदारों ने कहा: हम दुकान नहीं खोलेंगे, शराब की बिक्री नहीं होगी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here