Loading...    
   


राशन के लिए वनवासी संत की हत्या कर शव को आधा किमी दूर दफन कर दिया / JABALPUR NEWS

सिहोरा/जबलपुर। जंगल के बीच मे बने मन्दिर में रह रहे 85 वर्षीय संत की हत्या करके उनके शव को मन्दिर से करीब 5 सौ मीटर की दूरी पर गड़ा दिया जबकि मन्दिर से ठीक पहले जूते झाडियों में पड़े हैं साथ ही उनकी छड़ी (घुटानी) मन्दिर के सामने झाडियों में पड़ी है और मास्क भी शव को ठिकाने लगाने के लिए ले जाने वाले रास्ते मे पड़ा हुआ था। मन्दिर से राशन और मोबाइल ग़ायब मिला। माना जा रहा है कि लॉकडाउन के कारण कुछ लोग जंगल के रास्ते निकले होंगे, भूख लगने पर राशन लूटने के दौरान वनवासी संत की हत्या कर दी और शव को जंगल में दफन करके फरार हो गए। 

मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल की जांच कर एफएसएल की टीम ने भी सभी सूक्ष्म बिंदुओं पर जांच की। वहीं परिजनों ने बताया कि 30 अप्रैल से मोबाइल भी बंद बता रहा था जिसके बाद संत जी के भाइयों ने खितौला थाने में मृत संत की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। खितौला थाना के अंतर्गत सरदा के जंगल मे घुघरा मेन रोड से करीब 3 किमी दूर स्थित चोपड़ा धाम मन्दिर के वनवासी संत भैया लाल महाराज करीब 85 वर्षीय की हत्या कर जंगल मे करीब आधा किमी दूर शव को गड्ढा करके मिट्टी में गड़ाया दिया था। 

जानकारी के बाद पहुंची पुलिस और एफएसएल की टीम ने साक्ष्य जुटा कर जांच शुरू की। जबकि घटना स्थल के रास्ते पर कुछ जगहों पर खून गिरने के धब्बे मिले लेकिन काफी दिन हो जाने के बाद अभी स्पष्ट नही है। जिस जगह पर संत के शव को गड़ाया गया है वहीं पास में ही खून के निशान लगे पत्ते और झाड़ियां मिली हैं जिस जगह गड़ाया गया वहां से बीस फीट की दूरी पर पीले रंग का रस्सा भी पड़ा मिला। यह भी अंदाजा लगाया जा रहा है कि संत की हत्या करने के बाद साक्ष्य खत्म करने के लिए हत्या करके शव को दफनाया गया है। मौके सिहोरा एसडीओपी भावना मरावी , खितौला टीआई, तहसीलदार समेत सभी आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। 

ये समान बिखरा मिला

मन्दिर से ठीक पहले जूते झाडियों में पड़े हैं साथ ही उनकी छड़ी (घुटानी) मन्दिर के सामने झाडियों में पड़ी है और मास्क भी शव को ठिकाने लगाने के लिए ले जाने वाले रास्ते में पड़ा हुआ था। जबकि मन्दिर से राशन और मोबाइल ग़ायब मिला। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल की जांच कर एफएसएल की टीम ने भी सभी सूक्ष्म बिंदुओं पर जांच की। वहीं परिजनों ने बताया कि 30 अप्रेल से मोबाइल भी बंद बता रहा था।

14 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात
दिमाग से निकाल दीजिए UPSC क्लियर करने 20 घंटे पढ़ना जरूरी है: पूनम दहिया
नए टू व्हीलर्स की हेडलाइट हमेशा ऑन क्यों रहती है
चक्रवाती तूफान आने वाला है, 7 राज्यों के सैकड़ों शहरों को प्रभावित करेगा 
ग्वालियर में दुकानदारों को लॉकडाउन नामंजूर, बाजार खोल दिया
भारत में नर्सों को सिस्टर क्यों कहते हैं, परंपरा या कुछ और 
आठ ट्रेनें भोपाल में रुकेंगी, ये रही लिस्ट, आम नागरिकों को यात्रा की अनुमति
MPPEB EXAM DATE: प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने 11 परीक्षाओं की तारीख घोषित
CBSE EXAM: परीक्षा कक्ष में बैठक व्यवस्था कैसी होगी
13 मई-25 जून शुक्र वक्री रहेंगे, पढ़िए आपका जीवन कितना प्रभावित होगा
इंदौर में डॉक्टर ने बीमार युवती का रेप कर डाला, लॉकडाउन के कारण मौका मिला
ग्वालियर स्टेशन से निकलेंगी 4 स्पेशल ट्रेनें, लेकिन कोई फायदा नहीं
राहत पैकेज में सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों को क्या मिला, यहां पढ़िए
अनुच्छेद 21 जीवन का अधिकार देता है तो फिर मृत्यु का अधिकार क्यों नहीं, पढ़िए


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here