Loading...    
   


भोपाल में AIIMS के 2 डॉक्टरों को पुलिस ने पीटा, एक आरक्षक लाइन अटैच | BHOPAL NEWS

भोपाल। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की डॉ. रितुपर्ना और डॉ. युवराज सिंह ने आरोप लगाया है कि बुधवार रात करीब 9:00 बजे जब वो ड्यूटी खत्म करके घर जा रहे थे तभी रास्ते में पुलिस ने उन्हें रोक कर पीटा। पुलिस की पिटाई से डॉक्टर युवराज सिंह के हाथ में चोट आई है। डीआईजी इरशाद वली ने इस घटना की जांच के आदेश देते हुए एक पुलिस आरक्षक को लाइन हाजिर कर दिया है।

हॉस्पिटल से निकलते ही पुलिस ने पीटा: डॉक्टरों का आरोप

डॉ. रितुपर्ना और डॉ. युवराज सिंह ने एम्स के निर्देशक को घटना के संबंध में एक शिकायती आवेदन दिया है। इसमें दोनों ने कहा है कि जब वे अपनी शिफ्ट पूरी करने के बाद एम्स के गेट नंबर एक से बाहर निकल रहे थे उस समय गेट के पास कुछ पुलिसकर्मी तैनात थे। पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोककर अभद्र भाषा में बाहर घूमने का कारण पूछा। इस पर दोनों डॉक्टर्स ने उन्हें अपने पहचान पत्र दिखाए और अस्पताल से ड्यूटी खत्म होने के बाद घर जाने की बात कही। दोनों डॉक्टर्स का आरोप है कि उनका जवाब सुनते ही पुलिसकर्मियों ने उनसे मारपीट शुरू कर दी और गाली-गलौज की। पुलिस की मारपीट में डॉ. रितुपर्ना के पैर और डॉ. युवराज सिंह के हाथ में चोट आई।

दोनों डॉक्टर बिना मास्क के चोरी से खुली दुकान पर सामान खरीद रहे थे: पुलिस

इधर, बाग सेवनिया पुलिस का कहना है कि लॉकडाउन के बावजूद एम्स के पास कुछ दुकानें खुलने और लोगों के सामान खरीदने की सूचना पर पुलिस पहुंची और लोगों को वहां से खदेड़ा। संभव है इसी दौरान कुछ लोगों को चोट पहुंची होगी। पुलिस का कहना है कि संबंधित डॉक्टर अपनी परिचित के साथ बगैर मॉस्क के सामान खरीदने गए थे। पुलिस ने डॉक्टर के साथ मारपीट संबंधी घटना से इंकार किया है। 

कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा
भोपाल एम्स के दो पीजी डॉक्टर्स , जिनमे एक महिला डॉक्टर है, की पुलिसकर्मियों द्वारा पिटाई की घटना सामने आयी है, जो कि बेहद शर्मनाक है। कोरोना महामारी के संकट के इस दौर में अपनी जान जोखिम में डाल जनता की सेवा कर रहे इन कर्मवीर योद्धाओं पर हमें गर्व है, सरकार यह सुनिश्चित करे कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृति ना हो, इसको लेकर प्रदेश में निर्देश जारी करे।

09 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

यदि एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष में अपने साथी पर गोली चलाए तो क्या होगा, पढ़िए 
पत्नी को धर्मपत्नी क्यों कहते हैं, क्या कोई लॉजिक है या बस मान-सम्मान के लिए
कोरोना फाइटर वंदना तिवारी की दर्दनाक मौत, DM से लेकर CM तक किसी ने मदद नहीं की 
कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है 
ग्वालियर में सब्जी वाले से संक्रमित हुई बबीता वर्मा, बाकी सब बाहर से 
मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत 
मध्यप्रदेश में ESMA लागू, पढ़िए आम जनता को इससे क्या फायदा होगा 
इंदौर, भोपाल, उज्जैन: घर से निकलते ही गिरफ्तार किए जाएंगे, 11 जिले 100% लॉक डाउन
लॉकडाउन के दौरान कालाबाजारी या नकली सामान की शिकायत कहां करें, पढ़िए 
सांसदों की तरह मध्य प्रदेश में विधायकों की विधायक निधि बंद होगी: सीएम शिवराज सिंह 
लॉक डाउन में प्याज चुराकर भाग रहे थे रोका तो पिता पुत्र की हत्या की 
SBI ने दूसरी बार मौके का फायदा उठाया, खाताधारकों को नुकसान 
पुलिस की वर्दी का रंग 'खाकी' क्यों होता है ब्राउन (कॉफी) क्यों नहीं होता
गुड न्यूज़: ₹500000 तक के इनकम टैक्स रिफंड हेतु आदेश जारी
भोपाल में 140 जमातियों को इज्तिमा मस्जिद में आइसोलेट कर दिया
कोरोना लॉकडाउन: 2nd WIFE से मिलने के लिए मांगा परमिट
MPPSC घोटाला: मैनेजमेंट की परीक्षा पास की, पोस्टिंग कॉमर्स में
मध्यप्रदेश में त्राहिमाम! कुल पॉजिटिव 403, 31 की मौत, छोटे शहरों की तरफ बढ़ रहा है कोरोना
इंदौर में कोरोनावायरस से डॉक्टर पंजवानी की मौत, मृत्यु दर भारत में सर्वाधिक


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here