Loading...    
   


ग्वालियर में सब्जी वाले से संक्रमित हुई बबीता वर्मा, बाकी सब बाहर से | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। मंगलवार को ग्वालियर में चार नए कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों के मिलने के बाद शहर भर में सनसनी फैल गई है। लगभग सभी की ट्रेवल हिस्ट्री सामने आ चुकी है। इनमें से श्रीमती बबीता वर्मा (ढोली बुवा का पुल) के बारे में जो जानकारी आई है उसने चिंताएं बढ़ा दी हैं। श्रीमती बबीता के परिवार जनों का कहना है कि वह लॉक डाउन के दौरान किसी के भी संपर्क में नहीं आई। केवल सब्जी की खरीदारी करती थी।

घर में उनके पति वीरेंद्र वर्मा, बेटा मोहित और बड़ा बेटा व उसकी पत्नी हैं। बबीता का कहना है कि पिछले कुछ दिनों में न तो उनके घर से कोई शहर से बाहर गया और न बाहर से आया। वह सिर्फ मोहल्ले में आने वाले सब्जी ठेले वाले से सब्जी लेने जाती थीं। इसके अलावा बेटा मोहित दूध वाले से दूध लेने और किराना का सामान लेने गया था। बबीता को एक दिन पहले केडीजे हॉस्पिटल ले जाया गया था, जहां से मंगलवार को उन्हें सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में शिफ्ट कर दिया गया। चिंता की बात यह है कि यदि श्रीमती बबीता वर्मा सब्जी विक्रेता से संक्रमित हुई हैं तो फिर यह संख्या आने वाले दिनों में बढ़ सकती है। क्योंकि सब्जी विक्रेता शायद अभी भी बाजार में है। 

कौन कहां से संक्रमित हुआ 

(जोहरा खान (20) सत्यदेव नगर, गांधी नगर) जोहरा खान का भाई गत 17 फरवरी को दुबई से लौटा था। वह खुद उत्तरप्रदेश के सहारनपुर में अपने रिश्तेदार के घर गई थी। 
(लता प्रभारी (33) नर्स विजयनगर आमखो) मूलत: इंदाैर की रहने वाली लता पुत्री लखन प्रभारी 4 अप्रैल को ही साथी नर्स अश्विनी प्रजापति के साथ इंदौर से लौटी थी। लता ने अगले ही दिन ट्रॉमा सेंटर में ड्यूटी शुरू कर दी थी। 3 दिन में लता स्टाफ और डॉक्टरों से भी मिली।
(अजय जाटव (18) सिंधिया नगर नाका चंद्रबदनी) अजय महाराष्ट्र में कोल्हापुर जिले के सांगली में मजदूरी करने गया था। सात दिन पहले ही ग्वालियर लौटा था। वह घर न आकर थाने चला गया था। जहां से उसे साडा स्थित रामकृष्ण हॉस्पिटल भेज दिया गया था। 

ट्रॉमा सेंटर के स्टाफ में संक्रमण का खतरा बढ़ा

स्टाफ नर्स लता प्रभारी ने 5 और 6 अप्रैल को ट्रॉमा सेंटर में सुबह की शिफ्ट में ड्यूटी की थी। इस दौरान उसके संपर्क में साथी 2 नर्स और 1 मेल नर्स के साथ जूनियर डॉक्टर व अन्य स्टाफ सहित 25 लोग संपर्क में आए। इन लोगों में भी कोरोना संक्रमण होने का खतरा बढ़ गया है।

08 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है
कोरोना फाइटर वंदना तिवारी की दर्दनाक मौत, DM से लेकर CM तक किसी ने मदद नहीं की
पहाड़ से उतरते समय ट्रक की तरह ट्रेन का इंजन बंद कर दें तो क्या होगा?
पुलिस की वर्दी का रंग 'खाकी' क्यों होता है ब्राउन (कॉफी) क्यों नहीं होता
मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत
यदि एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष में अपने साथी पर गोली चलाए तो क्या होगा, पढ़िए 
इंदौर में बाहर निकलने वाले गिरफ्तार होंगे, वैष्णव यूनिवर्सिटी अस्थाई जेल घोषित 
मध्यप्रदेश में संक्रमित जिलों की संख्या बढ़कर 14 हुई, इटारसी और श्योपुर पॉजिटिव 
शिवराज सिंह ने कोरोना के बहाने कलेक्टरों को लाल बत्ती दे दी 
मध्य प्रदेश: मंगलवार को 38 पॉजिटिव, टोटल 290, सबसे ज्यादा भोपाल में 
ग्वालियर में गुर्जरों ने तहसीलदार पर पथराव किया, गनर ने हवाई फायर करके जान बचाई
भोपाल में कोरोना पॉजिटिव डॉ रूबी खान का हंगामा, कलेक्टर परेशान 
ग्वालियर में क्वारैंटाइन 9 मुस्लिम खाने में मटन बिरयानी मांग रहे हैं, नहीं मिली तो हंगामा
ट्रंप की धमकी से भारत में गुस्सा, पीएम मोदी पर कड़ी प्रतिक्रिया का दवाब
इंदौर के कब्रिस्तानाें में आ रहे जनाजों की संख्या 488% का इजाफा
मध्यप्रदेश में लॉक डाउन का क्या करेंगे: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का बयान
पति की मौत के बाद देवर दुष्कर्म करने लगा, गर्भवती हुई तो घर से भगा दिया 
शिवराज सर, सुन रहे हैं ना आप, भोपाल में कोरोना इंफेक्शन क्यों बढ़ रहा है 
इंदौर में मेडिकल टीम के बाद पुलिस पर हमला, छह गिरफ्तार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here