JABALPUR CMHO ने रिश्वत केआरोपी RMO को हटाया

जबलपुर।
मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में विकलांग सर्टिफिकेट बनाने पांच हजार की रिश्वत मांगने के आरोपों में घिरे RMO डॉक्टर संजय जैन को सीएमएचओ ने 17 जून को हटा दिया। उनके खिलाफ एक जांच कमेटी गठित की गई है। तब तक के लिए डॉक्टर पंकज ग्रोवर को प्रभार सौंपा गया है। 

कलेक्टर के निर्देश पर हुई इस कार्रवाई से हड़कंप मचा हुआ है। RMO पर कोविड महामारी के दौरान भी कई तरह की अनियमितता के आरोप लगे थे। उखरी निवासी सत्यजीत यादव ने सीएमएचओ को शिकायत दी थी कि उसके भाई अभिजीत यादव दोनों पैर व रीढ़ की हड्‌डी की बीमारी से पीड़ित हैं। वह विकलांग की श्रेणी में आते हैं। नवंबर 2020 में उनके पिता का निधन हो गया था। परिवार पेंशन के लिए अभिजीत का विकलांग सर्टिफिकेट बनवाने के लिए 16 जून काे RMO डॉक्टर संजय जैन से मिला था। उन्होंने एक कर्मचारी से मिलाया, बोले कि वह किसी से मिलाएगा, उससे बोलकर सर्टिफिकेट बनवा लेना। वह डॉक्टर का लैपटॉप लेकर उसे पुराने ओपीडी के रास्ते अस्पताल के पीछे ले गया। 

विकलांग भाई को व्हील चेयर पर लेकर पीछे-पीछे गया। उसने एक व्यक्ति से मिलवाया, जो सर्टिफिकेट बनवाने के एवज में उससे 5 हजार रुपए मांगे। बताया कि डॉक्टर साहब खुद पैसे मांगने में संकोच कर रहे थे। इतने पैसे पास में नहीं थे, तो बोला कि आप डॉक्टर साहब से खुद बात कर लो।

सत्यजीत यादव के मुताबिक उसने कहा कि वह खुद डॉक्टर साहब को पैसे दे देगा, तब उक्त व्यक्ति बोला कि डॉक्टर साहब सीधे पैसे नहीं लेते हैं। इसके बाद वह डॉक्टर संजय जैन से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया। कुछ लोगों से फोन करवाने पर 30 नंबर कमरा में फार्म भरवाने बुलवाया। फार्म भरवाने के बाद दिन भर बाहर बैठाया रखा। शाम को पता करने पर कहा गया कि जुलाई या अगस्त में आकर पता कर लेना। जबकि 5 हजार देने पर तुरंत सर्टिफिकेट बनाने को तैयार थे।

इस मामले में श्रमजीवी पत्रकार परिषद की ओर से कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और सीएमएचओ डॉक्टर रत्नेश कुरारिया से शिकायत की थी। 17 जून काे सीएमएचओ ने आरएमओ को तत्काल प्रभाव से हटाते हुए, पूरे प्रकरण की जांच के आदेश दिए हैं। तब तक डॉक्टर पकंज ग्रोवर को आरएमओ का प्रभार सौंपा है।

17 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here