Loading...    
   


UJJAIN: 500 रुपए के लिए दोस्त की हत्या, पहचान छिपाने शव जलाया - MP NEWS

उज्जैन।
मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले के घटि्टया थाना क्षेत्र में सिर्फ 500 रुपए के विवाद में चार लोगों ने अपने ही दोस्त की गला काटकर हत्या कर दी। इसके बाद उसे जला दिया। मौके पर पहुंची पुलिस को लगा कि ये लाश मकान मालिक की है। जब जांच की, तो हकीकत सामने आई। पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक गांव में लालसिंह पिता दयाराम के घर में गुरुवार को जली अवस्था में युवक की लाश पड़ी होने की सूचना पुलिस को मिली। पुलिस व एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची। चूंकि उस वक्त लालसिंह घर पर नहीं था, तो पुलिस ने माना कि लाश लालसिंह की है। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए जिला अस्पताल लाया गया। प्रारंभिक जांच में पुलिस को पता चला था कि हत्या के बाद पहचान छिपाने के लिए शव को पेट्रोल डालकर जलाने का प्रयास किया गया है।   

यह है पूरा मामला

जांच अधिकारी प्रेम सिंह यादव ने बताया, पंकज पिता देवीलाल (25) निवासी ग्राम बिछड़ौद मजदूरी करता था। पंकज का दोस्त लालसिंह पिता दयाराम (27) निवासी दौलतपुर पार्टी करने के बहाने बुधवार शाम घर से बाइक पर बैठाकर ले गया था। लालसिंह के घर में पंकज, बलराम पिता राधेश्याम, जितेंद्र मोंगिया ने बीती रात शराब पार्टी की थी। जांच के दौरान पुलिस ने इन लोगों की तलाश शुरू की तो बलराम पकड़ में आया। उसने पूछताछ में बताया कि लाश पंकज पिता देवीलाल की है। लालसिंह व अन्य साथी हत्या के बाद भाग गए हैं।

पुलिस ने पंकज के परिवार वालों को सूचना दी। उन्होंने अस्पताल पहुंचकर शव की शिनाख्त की। वहीं, दूसरी तरफ पुलिस ने आरोपी बलराम को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। प्रारंभिक पूछताछ में पुलिस को पता चला कि शराब पार्टी में पंकज और लालसिंह के बीच 500 रुपए को लेकर विवाद हुआ था। लालसिंह ने दराते से पंकज का गला काट दिया। इसके बाद पेट्रोल डालकर शव को जला दिया। पार्टी में कुल 5 लोग थे। वारदात के बाद चाराभाग गए थे। इनमें से तीन को पुलिस हिरासत में ले चुकी है।

पंकज के भांजे संतोष चौहान ने बताया कि उसके पिता की मौत दो वर्ष पहले बीमारी के कारण हो चुकी है। तीन बहनें हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। पंकज मजदूरी करता था और विधवा मां का इकलौता सहारा था। उसकी हत्या क्यों की गई इसकी जानकारी परिवार वालों को भी नहीं है। पुलिस सूत्रों का कहना है, हत्या के पीछे कुछ और कारण भी हो सकते हैं जिसकी जांच जारी है। साथ ही फरार आरोपियों की तलाश भी जारी है। परिवार वालों के मुताबिक पंकज की शादी अभी नहीं हुई थी। अभी उसकी मां को बेटे की हत्या की जानकारी भी नहीं दी गई है। 

01 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here