Loading...    
   


BF के साथ पति की हत्या की, लाश फांसी पर लटका दी - MORENA MP NEWS

मुरैना।
 मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के युवक की जयपुर में उसकी पत्नी ने 6  साल छोटे प्रेमी के साथ मिलकर हत्या कर दी। इसके बाद उसे खुदकुशी का रूप देने के लिए पंखे के कड़े से फंदे पर लटका दिया। वारदात के आठ दिन बाद पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।   

डीसीपी पश्चिम प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी मंजू ओझा (34) कालवाड़ इलाके में सबरामपुरा तीजा नगर में रहती है। वहीं, आरोपी प्रेमी बीरेश ओझा (28) भी पड़ोस में रहता है। आरोपी बीरेश और मंजू का पति राकेश आपस में अच्छे दोस्त थे। वे दोनों मकानों में पीओपी करने का काम करते थे। राकेश ओझा मुरैना का रहने वाला था। जयपुर में काम करता था 

आरोपी बीरेश का राकेश के घर आना जाना था। इसी बीच राकेश की पत्नी मंजू और बीरेश के बीच नजदीकियां बढ़ने लगी। जल्द ही ये अवैध शारीरिक संबंधों में बदल गई। राकेश की गैर मौजूदगी में बीरेश उसके घर आने लगा। उन्होंने शादी करने की ठान ली। लेकिन इस नाजायज संबंधों में राकेश बाधा बन रहा था। इसके लिए मंजू और राकेश ने उसकी हत्या की साजिश रची।

एसीपी हरिशंकर शर्मा ने बताया कि 20 अप्रैल को रात 10 बजे मंजू ने बीरेश को फोन कर अपने घर बुलाया। इसके पहले मंजू ने अपने तीनों बच्चों को घर के दूसरे कमरे में ले जाकर बाहर से कुंडी लगा दी। जब बीरेश घर पहुंचा तब राकेश कमरे में बैठा हुआ था। आपसी बातचीत के दौरान बीरेश ने राकेश का एक कपड़े से गला घोंट दिया। इससे राकेश की मौत हो गई। इसके बाद दोनों ने राकेश की लाश को कमरे में पंखे के कड़े से फंदे पर लटका दिया। ताकि खुदकुशी करने की कहानी बना सके।

पत्नी ने पति की लाश को फंदे से पहले ही उतार लिया

21 अप्रैल को सुबह मंजू ने चीख पुकार मचाना शुरू कर दिया कि उसके पति राकेश ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। तब स्थानीय लोगों ने कालवाड़ थाने में सूचना दी। लेकिन भेद खुलने के डर से मंजू ने पुलिस के पहुंचने से पहले ही पति की लाश को नीचे उतार लिया। मौके पर पहुंचे थानाप्रभारी गुरुदत्त सैनी ने पड़ताल शुरू की। आसपास के लोगों ने मंजू के चरित्र पर संदेह जताया। बीरेश से नजदीकियां भी सामने आई। तब संदेह होने पर दोनों की कॉल डिटेल भी निकाली। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मौत संदेहास्पद होना बताया।

इस बीच मंजू अपने पति राकेश के शव और तीनों बच्चों को लेकर मध्यप्रदेश में मुरैना जिले में स्थित तहसील अंबा स्थित रुअरिया गांव चली गई। इस बीच पुलिस ने बीरेश को पकड़कर पूछताछ की तो उसने अवैध संबंधों में बाधा बन रहे राकेश की हत्या करना कबूल कर लिया। तब पुलिस ने मंजू को किसी बहाने से जयपुर बुलाया। यहां आने पर उसे गिरफ्तार कर लिया

28 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here