Loading...    
   


KAMAL NATH ने आइफा अवॉर्ड के नाम पर इंदौर के कारोबारियों से वसूली की थी: वीडी शर्मा - MP NEWS

इंदौर।
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद श्री विष्णु दत्त शर्मा ने कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं विधायक श्री कमलनाथ पर आरोप लगाया है कि उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के बाद आईफा अवार्ड के नाम पर इंदौर के उद्योगपतियों एवं व्यापारियों से चंदा वसूली की थी। श्री शर्मा ने कहा कि वह चंदा कहां गया इसका पता अभी तक नहीं चल पाया है। हम जांच कर रहे हैं। 

भारत में आपातकाल के प्रमुख रणनीतिकार कमलनाथ थे: सांसद विष्णु दत्त शर्मा

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष पर हमला करते हुए ये आरोप लगाए। शर्मा ने यह भी कह दिया कि देश में आपातकाल लागू करवाने वाले प्रमुख रणनीतिकार कमल नाथ ही थे। उनके रहते उनकी पार्टी में ही आंतरिक लोकतंत्र खत्म हो गया है। सांवेर में भाजपा के उम्मीदवार तुलसी सिलावट के साथ शुक्रवार को पत्रकारों से बात करते हुए शर्मा ने कहा कि कमल नाथ हम सभी को भूखे-नंगे लोग कहते हैं। उन्हें अपने उद्योगपति होने का दंभ है। उनका यह दंभ तोड़ने में ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ सिलावट ने अहम भूमिका निभाई।

दिग्विजय सिंह को सामने लाओ, चुनाव प्रचार कराओ: भाजपा

शर्मा ने यह भी आरोप लगाया कि कमल नाथ सरकार ने केंद्र से आया प्रधानमंत्री आवास का 2.43 हजार करोड़ का फंड लौटा दिया। उन्हें गरीबों के घर बनवाने की बजाय आइफा अवॉर्ड करवाने की चिंता थी। शर्मा ने कमल नाथ को चुनौती देने वाले अंदाज में कहा कि कहां है, दिग्विजयसिंह जो पीछे से सरकार चला रहे थे। लाओ न उन्हें मैदान में। कांग्रेस नेता गोविंद सिंह और उमंग सिंघार का नाम लेते हुए उन्होंने कहा-'कांग्रेस के ही नेता कह रहे हैं कि सरकार के निर्णय पीछे से कोई ओर लेता था।

स्टार प्रचारकों की लिस्ट में ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम दसवें नंबर पर क्यों

ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम स्टार प्रचारकों की सूची में दसवें नंबर पर रखे जाने के सवाल का जवाब देते हुए शर्मा ने कहा कि भाजपा एक व्यवस्था से चलती है। बीते चुनाव में जब मैं महामंत्री था तो मेरा नाम सबसे आखिरी में था। उन्होंने कहा कि विरोध से घबराकर सिंधिया के अकेले जनसभा या प्रचार नहीं करने की बात गलत है। वे जल्द दी सांवेर में भी सभा लेने आएंगे।

16 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here