Loading...    
   


MADHYA PRADESH में पहली बार कोरोना से मौत के बाद शव यात्रा / GWALIOR NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश में सरकारी स्तर पर कोरोनावायरस के संक्रमण की स्वीकार्यता कितनी बढ़ती जा रही है, यह मामला इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है। मध्य प्रदेश में पहली बार कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण मृत्यु को प्राप्त हुए व्यक्ति की शव यात्रा निकाली गई। मजे की बात तो यह है कि स्थानीय प्रशासन दावा करता है कि उसने कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया है।

मामला मध्य प्रदेश के जिला ग्वालियर विकासखंड भितरवार अंतर्गत ग्राम बेलगढा का है। कम्मोद सिंह रावत पुत्र वंशीराम उम्र 64 वर्ष टीवी के मरीज थे। पिछले दिनों इलाज कराकर लौटे उनके पुत्र दिनेश रावत उम्र 36 वर्ष बीते रोज बुधवार को आई जांच रिपोर्ट में कोरोना संक्रमित पाए गए। जिस पर स्वास्थ्य विभाग की टीम देर रात्रि को उन्हें लाने के लिए रवाना हुई लेकिन टीम पहुँचने से पूर्व ही कोरोना संक्रमित कमोद सिंह रावत ने अपना दम तोड़ दिया। 

स्थानीय प्रशासन ने उनके अंतिम संस्कार के लिए गुरुवार सुबह ही प्रबंध शुरू कर दिए। गांव पहुँचे इंसीडेंट कमांडेंट एसडीएम अश्विनी कुमार रावत ने मृतक के परिजनों को PPE KIT उपलब्ध कराई, जिसे पहन कर परिजनों ने गांव में कोविड-19 के संक्रमण से मृत व्यक्ति की शव यात्रा निकाली है। जहां संक्रमित पुत्र दिनेश रावत ने अपने पिता को हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार मुखाग्नि देकर अंतिम संस्कार किया। 

04 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्यप्रदेश में 10+2 स्कूल खुलेंगे, प्राइमरी और मिडिल बंद रहेंगे, आदेश जारी
IGNOU EXAM: फाइनल ईयर/ सेमेस्टर के लिए नोटिफिकेशन
गर्मी के पसीने और और व्यायाम के पसीने में क्या अंतर है
चीटियां क्या सचमुच अनुशासन में चलतीं है या फिर एक दूसरे के पीछे चलना उनकी मजबूरी है
BF ने GF से कैंसर पीड़ित पिता के लिए खून बदले आबरू ले ली
खनिज अधिकारी की वाइफ के बंगले में मिनी बार, बाथरूम में AC
जौहरी होटल भोपाल में नाबालिग लड़के-लड़कियों की हुक्का पार्टी
INDORE में वेब सीरीज के नाम पर लड़कियों से न्यूड वीडियो मंगवाए जाते थे
भारतीय ट्रेनों में एसी कोच बीच में क्यों होता है
यदि रेल की पटरी में करंट का तार लगा दें तो क्या होगा
BHOPAL NEWS: महिला ग्राहक को पुरुष ट्रायल रूम में भेज दिया फिर ताक-झांक करने लगा
CM ने चुनाव से पहले ब्यूरोक्रेट्स को खुश करने CPF बढ़ाया, कर्मचारियों का अटकाया
सामान्य कर्मचारियों के प्रमोशन में सुप्रीम कोर्ट का आरक्षण वाला स्टे लागू नहीं: हाई कोर्ट
रस्सी के झूले पर खड़े होकर झूलने से पैरों में झनझनाहट क्यों होती है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here