Loading...    
   


गर्मी के पसीने और और व्यायाम के पसीने में क्या अंतर है / INTERESTING SCIENCE IN HINDI

पसीने का अनुभव तो हम सभी ने किया है। पसीना आना एक अनैच्छिक क्रिया (Involantary  action) है जिसे हम स्वयं नियंत्रित नहीं कर सकते। हमारे शरीर में पाई जाने वाली स्वेद ग्रंथियां (sweat glands) से पसीने का श्रावण किया जाता है और यह क्रिया सिर्फ स्तनपाई  जीवों (mammals) में ही पाई जाती है। 

पसीना क्या है, पसीना नमकीन क्यों होता है

पसीना एक प्रकार का उत्सर्जित तरल द्रव्य है जिसके द्वारा सोडियम साल्ट, नाइट्रोजेनस वेस्ट को हमारे शरीर से बाहर निकाला जाता है। यही कारण है कि पसीना स्वाद नमकीन होता है। जबकि ज्यादातर उत्सर्जित कड़वे होते हैं। 

पसीना आने से क्या फायदा होता है

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि पसीना आना एक बहुत ही फायदेमंद क्रिया है। जिसके द्वारा हमारे शरीर का तापमान नियंत्रित होता है। यह एक प्रकार की प्राथमिक रूप से ठंडक (Primary form of cooling) देने वाली क्रिया है। 
😇 पखा,  कूलर, एसी सब उसके बाद ही आते हैं,  जबकि हम सोचते हैं कि पसीना आ रहा है तो पंखा, कूलर, एसी हमें ठंडक देगें, जबकि पसीना ठंडक देने के लिए ही आता हैे😃 
जब बहुत ज्यादा पसीना आ जाता है, तो तेजी से वाष्पीकरण (evaporation) होता है और हमें ठंडक महसूस होती हैं

गर्मी के पसीने और कसरत के पसीने में क्या अंतर है

गर्मी में पसीना आना तो एक सामान्य क्रिया है जो हमारे शरीर को ठंडक देती है परंतु व्यायाम या एक्सरसाइज करते समय हमें अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। व्यायाम करते समय हमारे शरीर की सभी कोशिकाएं सक्रिय हो जाती हैं तथा कोशिकाओं में उपस्थित जल शरीर से पसीने के रूप में बाहर आ जाता है। यदि हम वर्कआउट करना या शारीरिक श्रम करना बंद कर देंगे तो पसीना भी बंद हो जाएगा। यानी करसत का पसीना और गर्मी के कारण निकलने वाले पसीने में काफी अंतर होता है। लेखक श्रीमती शैली शर्मा मध्यप्रदेश के विदिशा में साइंस की टीचर हैं। (Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article)

विज्ञान से संबंधित सबसे ज्यादा पढ़ी गईं जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here