Loading...    
   


कोरोना काल में फीस विवाद पर जबलपुर हाई कोर्ट का फैसला / JABALPUR NEWS


जबलपुर
। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने कोरोनावायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए बंद कराए गए स्कूलों की फीस के मामले में अंतरिम आदेश जारी करते हुए कहा है कि स्कूल ट्यूशन फीस से ज्यादा किसी भी प्रकार की वसूली नहीं कर सकते। सरकार ने स्पष्ट किया है कि स्कूल इस साल ट्यूशन फीस में बढ़ोतरी नहीं कर सकते। हाईकोर्ट ने यह आदेश भी दिया कि कोरोना काल में किसी भी स्टूडेंट को स्कूल से निकाला नहीं जा सकता। यदि कोई स्कूल संचालक ऐसा करता है तो वह हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना का दोषी माना जाएगा। ऑनलाइन पढ़ाई के लिए स्कूल किसी भी प्रकार का अतिरिक्त शुल्क नहीं ले सकते।

CBSE ने हाईकोर्ट में कहा था: प्राइवेट स्कूलों को मान्यता पैसा कमाने के लिए नहीं दी

आपको बता दें कि इससे पहले 24 अगस्त को हाईकोर्ट में स्कूल फीस को लेकर सुनवाई हुई थी। जिसमें सीबीएसई की ओर से जवाब पेश किया गया, CBSE का कहना है कि जब वो किसी संस्था को स्कूल खोलने की मान्यता देते हैं, तब यह स्पष्ट कहा जाता है कि स्कूल एक चैरिटेबल ट्रस्ट होगा, यह पैसा कमाने का धंधा नहीं हो सकता और यदि पैसा कमाने जैसी कोई बात सामने आएगी तो मान्यता रद्द की जा सकती है।

इससे पहले मामले में 28 जुलाई को हाईकोर्ट ने मध्य प्रदेश के सभी निजी स्कूलों को सख्त हिदायत दी थी कि कोरोनाकाल में स्कूल फीस जमा न करने के आधार पर किसी भी स्टूडेंट का नाम नहीं काटा जाए। गौरतलब है कि निजी स्कूल संचालक लॉकडाउन और कोरोना संकट के दौरान स्कूल बंद रहने के बावजूद पूरी फीस लेना चाहते थे। इसके पीछे लॉकडाउन में भी बच्चों की ऑनलाइन क्लास लगाने का हवाला दिया गया। जिसको लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी। जिसपर सुनवाई के बाद कोर्ट ने निजी स्कूलों को झटका दिया है।

01 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ज्योतिरादित्य सिंधिया को पता ही नहीं मुख्यमंत्री ने बिजली बिल मामले में क्या किया
9 वोल्ट की बैटरी से 9 वाट का LED बल्ब कितनी देर तक जलेगा
नवजात शिशु की मुट्ठी बंद क्यों रहती है, क्या उसमें सचमुच भाग्य छुपा होता है
मध्यप्रदेश में 10+2 स्कूल खुलेंगे, प्राइमरी और मिडिल बंद रहेंगे, आदेश जारी
इंदौर के खजराना में ताजिए निकाले, इंस्पेक्टर सस्पेंड, ताजिया वालों के खिलाफ रासुका
BF ने शादी से मना किया, रेप केस दर्ज / लड़का बोला ब्लैकमेल कर रही है
ज्योतिरादित्य सिंधिया मुश्किल में: हाईकोर्ट ने निर्वाचन रद्द करने का नोटिस भेजा
भोपाल में मोती महल भरभरा के गिरा, 30 से ज्यादा कारें दबी
कर्मचारियों के थोकबंद रिटायरमेंट का प्लान, सर्कुलर जारी
गर्मी के पसीने और और व्यायाम के पसीने में क्या अंतर है
भारतीय ट्रेनों में एसी कोच बीच में क्यों होता है
मध्यप्रदेश में रविवार का लॉकडाउन समाप्त: गृहमंत्री
अनलॉक-4: दुर्गा प्रतिमा स्थापना होगी, कलेक्टर क्या मुख्यमंत्री भी लॉकडाउन नहीं कर सकते
जबलपुर में पत्नी ने रॉड मारकर हत्या की, भाई ने शव ठिकाने लगाया
रोऊंगा नहीं; कहीं से भी लाना पड़े, पैसा ले आऊंगा: सीएम शिवराज सिंह
कमलनाथ ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को 212 करोड रुपए की सरकारी जमीन ₹100 में दी थी
प्रणब मुखर्जी: मध्यप्रदेश में 7 दिन का राजकीय शोक
उज्जैन के होटल नटराज में छात्रा की हत्या, BF के साथ आई थी
ग्वालियर वाले रेल अफसर की बेटी ने माँ-भाई को गोली मारी, शीशे पर लिखा डिस्क्वालीफाइड ह्यूमन


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here