Loading...    
   


इंदौर में टोलकर्मियों ने ढाबे के बावर्ची की हत्या की, खाने का बिल चुकाने को लेकर हुआ विवाद / INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में अरंडिया बायपास पर देर रात एक ढाबे के कर्मचारी की सिर पर पटिया औऱ फिर गमला मारकर हत्या कर दी गई। विवाद पास ही स्थित क्षिप्रा टोल नाके के कर्मचारियों ने बिल मांगने की बात को लेकर किया था। आरोपी नशे में धुत थे और बिल नहीं देना चाहते थे। हत्या के बाद आरोपी सफेद रंग की कार से भाग गए।
    
लसूड़िया टीआई इंद्रमणी पटेल के अनुसार घटना मंगलवार रात 12 बजे के बाद बायपास स्थित यूपी चमन ढाबे पर हुई, जिसमें ढाबे के उस्ताद (खाना बनाने वाले ) 40 वर्षीय रविंद्र पिता हीरामन बघेल निवासी भिंड की हत्या कर दी गई है। ढाबे के मालिक और मृतक के साले मुकेश बघेल ने बताया कि रात 12 बजे 5 युवक उनके ढाबे पर भोजन करने आए थे। मुकेश ने ऑर्डर लिया। फिर मृतक रविंद्र ने उन्हें भोजन बनाकर दिया। उसके बाद रविंद्र सोने चला गया। रात 3 बजे जब भोजन कर आरोपी जाने लगे तो मुकेश ने उनसे बिल मांगा। आरोपियों ने उसे धमकाया और गालियां दी।

आरोपियों ने कहा कि वे यहां के बदमाश हैं। बिल नहीं देंगे। टोल नाके पर काम करते हैं। वहां, उनकी दादागिरी चलती है। इसके बाद मुकेश ने कहा कि वे बिना बिल दिए नहीं जा सकते हैं। इस पर आऱोपियों ने मुकेश को पीटना शुरू कर दिया। मुकेश को मारने के बाद वे उसके साथी को पीटने लगे। आवाज सुनकर रविंद्र बाहर आया। वह विवाद की स्थिति समझने लगा, तभी एक आरोपी ने रविंद्र के सिर पर पटिया मार दिया। पटिया लगते ही रविंद्र नीचे गिर पड़ा। फिर आरोपी मुकेश से विवाद करने लगे। तभी एक आरोपी ने पास ही पड़ा गमला उठाया औऱ रविंद्र के सिर पर फेंक दिया।

रविंद्र के सिर पर गंभीर चोट देख मुकेश औऱ उसका साथी उसे उठाने पहुंचे। तब तक आरोपी मौका देखकर कार से भाग निकले। मुकेश अपने जीजा रविंद्र को अस्पताल लाया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। फिर पुलिस को सूचना दी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। घटनास्थल पर पड़ताल की। ढाबे में लगे सीसीटीवी की रिकार्डिंग खंगाली। उसमें आरोपी और घटनाक्रम दिखा है। जानकारी के अनुसार आरोपियों के नाम दीपक परमार, अजय सिंह परमार, भगत राणा, शैलेंद्र मिश्री व अऩ्य हैं। फिलहाल सभी आऱोपी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश मे जुटी है।

05 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

भोपाल लॉकडाउन खत्म होने के बाद कलेक्टर की गाइडलाइन जारी
मुरैना में कमिश्नर ने बीआरसी को सस्पेंड किया
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोनावायरस से जंग जीत कर घर लौटे
भोपाल पुलिस के ASI अहमद की कोरोनावायरस से मौत
कोविड सेंटर में इतने लोग सीएम शिवराज सिंह की सेवा में लगे थे
कांग्रेस में अकेले पड़ गए दिग्विजय सिंह, कमलनाथ ने भी साथ नहीं दिया



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here