Loading...    
   


इंदौर हनीट्रैप: किसान को मालदार समझ कर फंसाया, पर वो कंगाल निकला / INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में हनी ट्रैप में किसान को फंसाने वाली महिला और उसके चार साथियों को पुलिस ने जेल भेज दिया है। पुलिस ने महिला के छह महीने तक के मोबाइल कॉल डिटेल की जांच की। महिला ने कबूला कि मिस्ड कॉल की गलती में किसान उलझ गया। वह खुद अपने बारे में सबकुछ बताने लगा। बस वहीं से लग गया कि ये अच्छा माल दे जाएगा। जब पति को इसकी जानकारी लगी तो उसने डांटा था, लेकिन मैंने ही कहा कि ये मालदार किसान है। इससे अच्छी-खासी रकम मिल सकती है। इसके बाद मैं, पति और उसके साथियों ने मिलकर साजिश रची।

MIG थाना प्रभारी नितिन पटेल के अनुसार पुलिस ने हनी ट्रैप में फंसे पांचवें आरोपी शाहरुख को स्टार चौराहे से गिरफ्तार किया है। वह ऑटो चलाता है। उसका कहना है कि दोस्त संजय के लालच में आकर वह भी प्लान में शामिल हो गया था। पूछताछ में महिला ने बताया कि लॉकडाउन में एक दिन उसका मिस्ड कॉल हो गया। उधर से राजेश ने दोबारा कॉल किया। फिर अपने बारे में ज्यादा ही बातें बताने लगा। मुझ पर इम्प्रेशन झाड़ने लगा। मुझे लगा कि ये अच्छा पैसे वाला है। मैं भी उससे बात करने लगी। 15 दिन बाद मेरे पति को इसकी भनक लगी तो मुझे बहुत डांटा। कहा- तू ऐसा क्यों करती है। मैंने कहा- वह काफी पैसे वाला किसान है। मुझे प्रेम करने लगा है। झांसे में आ सकता है। प्लान बना लो तो उससे पैसा ले सकते हैं। इसके बाद महिला के पति संजय ने साजिश रची और दोस्तों को शामिल किया। वे तीन-चार तरह की योजना बना रहे थे। आखिर में उन्होंने तय किया कि वह जैसे ही घर में आएगा, उसे रेप का केस लगाने की धमकी देकर पकड़ लेंगे।

संजय ने कबूला कि साजिश के तहत वैसा ही हुआ। जैसे ही राजेश घर पहुंचा। पीछे से चारों आ गए। उसे धमकाया। कहा- पत्नी से संबंध बनाने के आरोप में जेल भेज देंगे। उसे डराया। फिर एक थप्पड़ मारा। इसके बाद राजेश ने खुद सरेंडर कर दिया। कहने लगा कि जो कहोगे करूंगा। फिर दोस्तों ने पांच लाख की मांग कर दी। वह घबरा गया। बोला- इतने रुपए तो नहीं हैं। संजय का कहना है कि हम सोच रहे थे यदि उसके पास एक-दो लाख रुपए होते तो वह लेकर उसे छोड़ देते, लेकिन वह भी कंगाल निकला। फिर सबने सोचा कि इसके घर से पैसा मंगवा लें। उसने अपने एक मित्र का हवाला दिया। फिर रुपए लाने को कहा। यदि रुपए शाम तक मिल जाते, तब भी उसे छोड़ देते। बाद में सभी दोस्तों को लालच आ गया। सोचा कि उज्जैन के गांव का किसान है, कुछ बिगाड़ नहीं सकता। इसलिए उसे कुछ ज्यादा ही धमका दिया। अगले दिन उसकी गाड़ी और मोबाइल छीन लिया।

30 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here