Loading...    
   


ग्वालियर में टीआई राजपूत इनामी बदमाश की जगह निर्दोष युवक को गिरफ्तार कर लाए, सस्पेंड / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी के आदेश पर हुई जांच के बाद बहोड़ापुर पुलिस थाने के टी आई दिनेश सिंह राजपूत को सस्पेंड कर दिया गया है। जांच के दौरान पाया गया कि टीआई दिनेश सिंह राजपूत ने एक निर्दोष युवक को गिरफ्तार करके उसे ₹5000 का इनामी बदमाश बताया और मीडिया में उसकी फोटो भी जारी करवा दी है। 

ग्वालियर में अरुण पुत्र ओमप्रकाश शर्मा पर ₹5000 का इनाम घोषित किया गया था। बहोड़ापुर पुलिस थाने के टीआई दिनेश सिंह राजपूत ने अरुण शर्मा नाम के एक निर्दोष युवक को गिरफ्तार किया और दस्तावेजों में उसे ही इनामी बदमाश बता दिया। इतना ही नहीं उसकी फोटो भी प्रेस में जारी कर दी। 

गिरफ्तार निर्दोष युवक के भाई ने एसपी अमित सांघी के पास जाकर पूरे मामले की शिकायत की। एसपी सांघी ने मामले की जांच के लिए एडिशनल एसपी पंकज पांडे को नियुक्त किया। एडिशनल एसपी श्री पांडे ने जांच के प्रथम चरण में ही स्पष्ट कर दिया कि गिरफ्तार किया गया युवक और फरार चल रहा है इनामी बदमाश दो अलग-अलग व्यक्ति है। एडिशनल एसपी श्री पांडे की रिपोर्ट पर पुलिस अधीक्षक ग्वालियर में टीआई दिनेश सिंह राजपूत को सस्पेंड कर दिया है। इस मामले में अभी यह पता लगाया जाना शेष है कि टीआई दिनेश सिंह राजपूत ने निर्दोष युवक की गिरफ्तारी किसी कन्फ्यूजन में आकर की है या फिर इनामी बदमाश को बचाने के लिए साजिश के तहत यह कार्रवाई की गई।

15 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here