Loading...    
   


मौसम विभाग के येलो और ऑरेंज अलर्ट का मतलब क्या होता है, आइए पढ़ते हैं / WEATHER ALERT MEANING

भारत सरकार का मौसम विभाग प्रतिदिन नियमित रूप से मौसम की भविष्यवाणी करता है। बारिश के दिनों में अक्सर मौसम विभाग द्वारा अलर्ट जारी किया जाता है। मौसम विभाग के अलर्ट चार कलर में होते हैं ग्रीन, येलो, ऑरेंज और रेड। स्क्रीन का मतलब सब क्लियर है बिंदास घूमो, रेड का मतलब खतरा है घर में रहो यह तो हम भी जानते हैं परंतु येलो और ऑरेंज का मतलब क्या होता है। आइये जाने क्‍या होता है मौसम विभाग द़वारा जारी ग्रीन, येलो, ऑरेंज और रेड अलर्ट का मतलब:- 

ग्रीन अलर्ट - कोई खतरा नहीं।
येलो अलर्ट - खतरे के प्रति सचेत रहें। मौसम विभाग के अनुसार येलो अलर्ट के तहत लोगों को सचेत रहने के लिए अलर्ट किया जाता है। यह अलर्ट जस्ट वॉच का सिग्नल है।
ऑरेंज अलर्ट - खतरे की पूरी संभावना हैं आप तैयार रहें। मौसम विभाग के अनुसार जैसे-जैसे मौसम और खराब होता है तो येलो को अपडेट करके ऑरेंज कर दिया जाता है। ऑरेंज अलर्ट जारी होने पर लोगों को इधर-उधर जाने के प्रति सावधानी बरतने के लिये कहा जाता है। 

रेड अलर्ट - इसका अर्थ है स्थिति खतरनाक है। मौसम विभाग का कहना है कि ऐसे में मौसम खतरनाक स्तर पर पहुंच जाता है और भारी नुकसान होने की आशंका होती है तो विभाग की ओर से रेड अलर्ट जारी कर दिया जाता है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here