Loading...    
   


झारखंड के शिक्षा मंत्री ने 11वीं में एडमिशन लेकर तंज कसने वालों पर तमाचा मारा / NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। भारत में ऐसे कई शिक्षा मंत्री हुए हैं जिनकी क्वालिफिकेशन को लेकर हमेशा सवाल उठाए जाते रहे हैं। ऐसे ही कुछ सवाल जगरनाथ महतो को टारगेट करके उठाए गए थे जब उन्हें झारखंड राज्य का शिक्षा मंत्री बनाया गया लेकिन उन्होंने सवाल उठाने वालों के गाल पर कैसा तमाचा मारा कि दुनिया भर की मोटिवेशनल क्लासेस में इस कहानी को सुनाया जाएगा। 

झारखंड राज्य के शिक्षा मंत्री श्री जगरनाथ महतो दसवीं यानी हाई स्कूल पास है। जब उन्हें शिक्षा मंत्री बनाया गया तो लोगों ने ना केवल उनका बल्कि पूरी सरकार का मजाक उड़ाया। दसवीं पास नेता शिक्षा विभाग का संचालन कैसे करेगा। जगरनाथ महतो को यह बात भीतर तक चुभ गई। राजनीति में इस तरह के सवालों का जवाब देने के लिए कुछ लोग फर्जी डिग्री या सर्टिफिकेट बनवा लेते हैं तो कुछ मानद उपाधियां हासिल कर लेते हैं। जो कुछ नहीं कर पाते वह बेतुके बयान दे देते हैं लेकिन जगरनाथ महतो ने ऐसा कुछ नहीं किया बल्कि 11वीं कक्षा में एडमिशन ले लिया।

जब ब्यूरोक्रेट्स नौकरी के साथ पढ़ाई करते हैं तो मंत्री क्यों नहीं पढ़ सकता: जगरनाथ महतो

झारखंड राज्य के शिक्षा मंत्री श्री जगरनाथ महतो का कहना है कि पढ़ाई की कोई उम्र नहीं होती, देश के आईएएस-आईपीएस समेत अन्य अधिकारी भी नौकरी करने के साथ आगे उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए पढ़ाई करते है, ऐसे में शिक्षामंत्री आगे की पढ़ाई के लिए कदम उठाता है, तो किसी को आश्चर्य करने की कोई बात नहीं है। 

उच्च शिक्षा क्यों नहीं हासिल कर पाए श्री जगरनाथ महतो

जगरनाथ महतो के मुताबिक साल 2005 में जब वो पहली बार डुमरी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव जीत कर आए तो पैतृक प्रखंड नवाडीह में कोई इंटर कॉलेज नहीं था। उनके प्रयास से ही नवाडीह प्रखंड में इंटर की पढ़ाई शुरू हो पाई और अब वो उसी कॉलेज में इंटर की पढ़ाई के लिए नामांकन लेंगे। 

दुनिया भर के मोटिवेशनल शो और बुक्स के लिए नई कहानी है जगरनाथ महतो 

एक नेता जब सच बोले तो सब को अच्छा लगता है और यदि सन 2020 में अपनी शिक्षा को लेकर सच बोले तो बहुत अच्छा लगता है। उस समय तो अपने भारतीय होने पर गर्व होने लगता है जब दसवीं पास शिक्षा मंत्री 11वीं की पढ़ाई के लिए स्कूल में एडमिशन ले ले। निश्चित रूप से यह बड़ी बहादुरी का काम है। सच का सामना करना और उस को हराने के लिए आगे बढ़ना, इतनी हिम्मत ज्यादातर करोड़पति कारोबारी, सक्सेसफुल पॉलीटिशियंस और पावरफुल ब्यूरोक्रेट्स में भी नहीं होती।

10 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

देश का कोई भी ट्रांसपोर्ट मध्यप्रदेश में माल नहीं भेजेगा, दूध-दवाइयां सब बंद: ट्रांसपोर्ट की हड़ताल
इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया, प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज
शिवराज सिंह ने फिर 6000 करोड़ का कर्ज ले लिया, जनता से वसूले जाएंगे
BSNL का फाइबर 499 रुपए में सब कुछ अनलिमिटेड, ऑनलाइन अप्लाई कीजिए
आउटसोर्सिंग कार्पोरेशन बनाकर नौकरियां और आरक्षण खत्म करना चाहती है सरकार
कुत्ते अपनी दुम हिलाते-दबाते क्यों हैं, मक्खी भगाते हैं या कोई संकेत देते हैं
MP BOARD डीएलएड फर्स्ट एवं सेकंड ईयर का एग्जाम टाइम टेबल जारी
ज्यादातर जानवर पेट के बल सोते हैं तो फिर इंसान पीठ के बल क्यों सोता है
ग्वालियर में पत्ती संचालक कारोबारी हुकुमचंद 31 लाख रुपए लेकर फरार
स्पीकर में मैग्नेट क्यों लगाया जाता है, केवल वजन बढ़ाने के लिए या दूसरा कारण है
ग्वालियर में पुलिस का गोपनीय पत्र सोशल मीडिया पर वायरल
कैलाश विजयवर्गीय समर्थक भाजपा मंडल अध्यक्ष गिरफ्तार
मध्य प्रदेश में 13000 सरकारी स्कूलों को हमेशा के लिए बंद करने की तैयारी
भोपाल में मौसम का पूर्वानुमान कृष्ण जन्माष्टमी पर झूम के बरसेंगे बदरा
मध्यप्रदेश में बंगाल के बादल, 23 जिलों में बारिश का पूर्वानुमान
UGC COLLEGE EXAM: सुप्रीम कोर्ट में आज क्या हुआ, पढ़िए
स्पीकर में मैग्नेट क्यों लगाया जाता है, केवल वजन बढ़ाने के लिए या दूसरा कारण है
श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2020 कब मनाई जाएगी, कंफ्यूज ना हो हम बताते हैं
यदि भारत में नकली विदेशी मुद्रा बनाई जाए तो FIR कहां दर्ज होगी, भारत में या विदेश में


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here