Loading...    
   


10th एमपी बोर्ड का रिजल्ट 62.84% नहीं 45% है, बेस्ट ऑफ फोर के कारण 62.84% नजर आ रहा है

भोपाल। माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्य प्रदेश द्वारा दोनों घोषित किया गया 10वीं हाई स्कूल का रिजल्ट 62.84% रहा और यह पिछले साल 61.32% के मुकाबले 1.52% ज्यादा दिखाई दे रहा है, परंतु सिर्फ दिखाई दे रहा है। असल में यह रिजल्ट पिछले साल के मुकाबले और ज्यादा खराब है क्योंकि इस साल का रिजल्ट बेस्ट ऑफ फोर के आधार पर बनाया गया है। उम्मीद की गई थी कि यदि छात्रों ने पिछले साल के बराबर प्रदर्शन किया तो इस साल सरकारी आंकड़ों में रिजल्ट 75% नजर आएगा।

मध्य प्रदेश हाईस्कूल का सही परीक्षा परिणाम 45% है

माशिमं ने 'बेस्ट ऑफ फाइव' योजना परीक्षा परिणाम बढ़ाने के लिए 2018 में शुरू की थी लेकिन यह बच्चों में कठिन विषयों को प्रति अरुचि जगा रही है। इसे देखते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने इस साल से योजना को बंद करने के लिए पत्र लिखा था। इस पर योजना को बंद कर जब परिणाम निकाला गया तो प्रदेश का परीक्षा परिणाम 45 फीसद ही बना। वहीं, कोरोना के कारण पूरे विषयों की परीक्षा नहीं हो सकी। इसे देखते हुए माशिमं ने "बेस्ट ऑफ फाइव" के बदले "बेस्ट ऑफ फोर" लागू कर परिणाम बनाया। तब कहीं जाकर परीक्षा परिणाम 62.84 फीसदी रहा जो पिछले साल के 61.32 प्रतिशत के मुकाबले 1.52 फीसद अधिक है। बता दें कि इस साल दसवीं बोर्ड परीक्षा में प्रदेश भर से 8,93,336 विद्यार्थी शामिल हुए थे। इनमें से गणित में 3,98,366 व अंग्रेजी में 2,49,272 विद्यार्थी फेल हुए हैं

योजना से रिजल्ट के आंकड़े बदल रहे हैं परंतु स्टूडेंट्स पिछड़ रहे हैं

योजना के आने से गणित, अंग्रेजी व विज्ञान विषय में फेल विद्यार्थियों को पास किया जा रहा है। यह सही है कि योजना के कारण विद्यार्थी कठिन विषय को पढ़ना छोड़ रहे हैं। इससे उनका बेसिक नॉलेज कमजोर हो रहा है। वे आगे प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए भी कमजोर साबित होंगे- सुनीता सक्सेना, शिक्षाविद

हम तो बेस्ट ऑफ फाइव योजना बंद करना चाहते हैं: कमिश्नर लोक शिक्षण संचालनालय

हर साल गणित और अंग्रेजी विषय में बेस्ट ऑफ फाइव योजना के तहत पास किया जा रहा है। इसे हटाने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है, लेकिन निर्णय नहीं हुआ है। प्रतियोगी परीक्षाओं लिए गणित व अंग्रेजी विषय पढ़ना जरूरी है।- जयश्री कियावत, आयुक्त, लोक शिक्षण संचालनालय

08 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

सीएम शिवराज सिंह दिल्ली से बैरंग वापस लौटे, केंद्रीय नेतृत्व को विश्वास में नहीं ले पाए
MPPSC: हाईकोर्ट ने दिव्यांग सहायक प्रध्यापकों को नियुक्ति देने की लास्ट डेट तय की
ये खूब रही, शिक्षा मंत्री ने सरकार गिरा दी और हाई स्कूल रिजल्ट का क्रेडिट कमलनाथ को
रसोई गैस की आग नीली क्यों होती है, क्या इससे खाना गर्म तो होता है लेकिन पकता नहीं
मेष, मकर और कुंभ राशि वालों के लिए विशेष उपाय, ध्यान से पढ़िए
चुम्बक केवल लोहे को ही क्यों खींचता करता है, पीतल, सोना या चांदी भी तो धातू हैं
मध्य प्रदेश के 5 लाख शासकीय कर्मचारियों की वेतन वृद्धि
रीवा को मंत्री पद नहीं मिला तो क्या एशिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा परियोजना मिल गई
कोर्ट में यूज होने वाला पेपर हरा और थोड़ा ज्यादा बड़ा क्यों होता है
यदि किसी व्यक्ति को आवेदन देने से रोका जाए तो क्या FIR दर्ज हो सकती है
हद कर दी, घरों में स्कूल लगवा दिए, सरकार संक्रमण फैलाएगी!
यदि कोई दबंग धमकी देकर किसी से अवैध काम करवाए तो FIR किसके खिलाफ दर्ज होगी
BSNL: ₹6.66 में 5Gb डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग +100 SMS
ग्वालियर में 'महाराज' के महल के सामने कमलनाथ कैंप लगाएंगे


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here