Loading...    
   


ग्वालियर में 'महाराज' के महल के सामने कमलनाथ कैंप लगाएंगे, उपचुनाव तक वहीं रहेंगे / MP ELECTION NEWS

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने फैसला किया है कि मध्य प्रदेश की 24 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव पूरा होने तक वह ग्वालियर में रहेंगे। ग्वालियर में ही कांग्रेस पार्टी का चुनाव मुख्यालय बनाया जाएगा। बता दें कि ग्वालियर-चंबल संभाग की 17 सीटों पर उपचुनाव होना है। यही क्षेत्र है जो कमलनाथ के भविष्य का निर्धारण करेगा। 

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि ग्वालियर में कमलनाथ के लिए एक आलीशान बंगले की तलाश की जा रही है। ताकि उनकी शान ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने कमतर नजर ना आए। ग्वालियर में ज्योतिरादित्य सिंधिया का घर यानी जय विलास पैलेस (600 कमरे वाला महल) है। बताया जा रहा है कि 20 जुलाई से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र के बाद कमलनाथ ग्वालियर में ही रहेंगे। इसकी वजह भी है, ग्वालियर-चंबल संभाग में ही सबसे ज्यादा 17 सीटों पर उपचुनाव होना है। (16 सिंधिया समर्थक और एक विधायक के निधन से रिक्त विधानसभा क्षेत्र) कमलनाथ का फोकस भी इन्हीं विधानसभा क्षेत्रों पर रहेगा। 

ग्वालियर-चंबल संभाग दिग्विजय सिंह का भी गढ़ है, फिर कमलनाथ क्यों 

पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह एवं ग्वालियर चंबल संभाग की राजनीति से परिचित लोगों का मानना है कि यह इलाका सिंधिया राजवंश के अलावा दिग्विजय सिंह की मजबूत पकड़ वाला क्षेत्र है। ग्वालियर चंबल संभाग के गांव गांव में दिग्विजय सिंह के कार्यकर्ता मौजूद है। फिर क्या कारण है कि कमलनाथ किस इलाके में कांग्रेस को कमजोर मान रहे हैं और पार्टी को मजबूत करने के लिए खुद वाले जाने का फैसला कर रहे हैं। कहीं चुनाव के बहाने कमलनाथ ग्वालियर-चंबल संभाग में खुद को दिग्विजय सिंह से ज्यादा मजबूत करने की कोशिश तो नहीं कर रहे।

कमलनाथ को भाजपा के बागियों का इंतजार

ग्वालियर-चंबल संभाग की 17 विधानसभा सीटों पर चुनाव होना है। हर सीट पर कांग्रेस पार्टी के पास मजबूत प्रत्याशी है। बावजूद इसके मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से अनौपचारिक तौर पर बार-बार दोहराए जा रहा है कि ग्वालियर-चंबल संभाग में प्रत्याशियों का टूटा है। यह भी खुलकर बताया जा रहा है कि कमलनाथ की मंशा इस बार भारतीय जनता पार्टी के बागी नेताओं को टिकट देने की है। सवाल यह है कि क्या कमलनाथ के इस तरीके के फैसलों से कांग्रेस के कार्यकर्ता बगावत नहीं कर देगा।

06 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश के 5 लाख शासकीय कर्मचारियों की वेतन वृद्धि 
कोर्ट में यूज होने वाला पेपर हरा और थोड़ा ज्यादा बड़ा क्यों होता है 
ये खूब रही, शिक्षा मंत्री ने सरकार गिरा दी और हाई स्कूल रिजल्ट का क्रेडिट कमलनाथ को 
बहती नदी पर इंजीनियर पुल कैसे बनाते हैं, लोग बरसात में घर नहीं बना पाते 
यदि किसी व्यक्ति को आवेदन देने से रोका जाए तो क्या FIR दर्ज हो सकती है 
RGPV: परीक्षा हो ना हो, फीस वसूली पूरी 
मध्य प्रदेश के 17 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट 
ग्वालियर बड़ा औद्योगिक क्षेत्र बनेगा: ज्योतिरादित्य सिंधिया 
रसोई गैस की आग नीली क्यों होती है, क्या इससे खाना गर्म तो होता है लेकिन पकता नहीं 
मध्य प्रदेश: शादी के लिए सज रही दुल्हन की हत्या, बेरहमी से गला काट डाला 
BSNL: ₹6.66 में 5Gb डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग +100 SMS
मध्यप्रदेश में कोरोना से 608 मौतें, 5 जिलों की हालत खराब 
मंत्रिमंडल विस्तार से नाराज अजय विश्नोई ने सीएम शिवराज सिंह को पत्र लिखा 
CM Sir, हमने विभाग को अवार्ड दिलवाया, हमें ही नौकरी से निकाल दिया 
दुल्हन का हत्यारा उसी का एक्स बॉयफ्रेंड निकला, शाजापुर से जावरा मारने आया था


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here