Loading...    
   


मध्य प्रदेश के 5 लाख शासकीय कर्मचारियों की वेतन वृद्धि / EMPLOYEE NEWS

भोपाल। कोरोनावायरस लॉकडाउन के कारण सातवें वेतनमान की तीसरी किस्त और 5% महंगाई भत्ता का झटका लगाने के बाद मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को वेतन वृद्धि की राहत दी गई है। सभी कर्मचारियों को वेतन वृद्धि देने का फैसला किया गया है। इसके लिए 540 करोड रुपए का प्रावधान किया गया है। 

कर्मचारियों से कटौती करके 2000 करोड रुपए बचा चुकी है सरकार

प्रदेश में कोरोना संकट के कारण कर्मचारियों को सातवें वेतनमान की तीसरी और अंतिम किस्त का एरियर्स देने पर रोक लगाई गई थी। इसके पहले 5% महंगाई भत्ता बढ़ाने का निर्णय वापस लिया गया था। इससे सरकार को फिलहाल करीब 2000 करोड़ रुपये की बचत हुई है।

कुछ अधिकारी चाहते थे कर्मचारियों की वेतन वृद्धि रोक दी जाए

सूत्रों का कहना है कि कुछ अधिकारी चाहते थे कि संकट के दौर में एक जुलाई से दी जाने वाली सालाना वेतनवृद्धि को कुछ समय के लिए स्थगित रखा जाए, लेकिन इससे साफ इन्कार कर दिया गया। बताया जा रहा है कि एक जुलाई से करीब 3% के हिसाब से वार्षिक वेतनवृद्धि देने की फाइल बढ़ा दी गई है। प्रदेश में हर साल करीब बीस हजार करोड़ रुपये वेतन-भत्तों में खर्च होते हैं।

पेट्रोल डीजल पर जो टैक्स बढ़ाया है, कर्मचारियों को इंक्रीमेंट में दिया जाएगा

इस हिसाब से जुलाई से मार्च तक वेतनवृद्धि पर करीब 540 करोड़ रुपये खर्च होंगे। बजट में इसके लिए प्रावधान किए जा चुके हैं। सूत्रों का कहना है कि प्रदेश सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर एक-एक रुपये का जो अतिरिक्त कर लगाया है, उससे सरकार की वित्तीय हालत में सुधार आएगा।

इसके जरिए सरकार पेट्रोल से करीब 370 करोड़ और डीजल से 200 करोड़ रुपये अतिरिक्त राजस्व हासिल करेगी। पेट्रोल-डीजल से सरकार को सालाना 11500 करोड़ रुपये का राजस्व मिलता है। वहीं, शराब दुकानों की नीलामी का सिलसिला भी चल रहा है। इससे लगभग 10000 करोड़ रुपये की आय होने की संभावना है।

04 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP BOARD 10th TOPPERS LIST 2020 / जिला स्तरीय टॉपर्स की सूची 
MP BOARD 10th TOPPERS LIST 2020 / राज्य स्तरीय टॉपर्स की पूरी लिस्ट
MP BOARD 10th HIGH SCHOOL RESULT 2020 यहां देखें, SMS पर भी मिलेगा 
MP Bord 10th TOP 10 में 15 स्टूडेंट्स के नाम
कर्मचारी, कोर्ट से बरी हो जाए तो क्या उसी मामले में विभागीय जांच चल सकती है 
विधायक रामेश्वर शर्मा मध्यप्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर
प्राचीन काल में क्या राजा-महाराजा भी खुले में शौच के लिए जाते थे
बहती नदी पर इंजीनियर पुल कैसे बनाते हैं, लोग बरसात में घर नहीं बना पाते
इंदौर हाईकोर्ट में ब्लास्ट, 5 गंभीर रूप से घायल 
हत्यारे को बचाने की किसी भी प्रकार की कोशिश अपराध है, पढ़िए FIR में कौन सी धारा दर्ज होगी
मध्य प्रदेश के 33 मंत्रियो में से 14 विधायक ही नहीं है: कमलनाथ
MPPSC: सहायक प्राध्यापक आरक्षण से संबंधित याचिका खारिज
जो थर्माकोल गर्म पानी में से नहीं पिघलता, माचिस की तीली से क्यों सिकुड़ जाता है
इस लड़की को ध्यान से देखिए, कहीं किसी से शादी की बात तो नहीं चल रही
देवास के बाद सागर में शिवराज सरकार मंत्रिमंडल विस्तार का विरोध
मध्य प्रदेश में 22 नगर परिषदों का गठन, अधिसूचना जारी
जबलपुर भाजपा विधायक अजय विश्नोई का बगावती बयान
झूठी गवाही के लिए धमकाना या लालच देना कितना गंभीर अपराध है, यहां पढ़िए
मध्य प्रदेश कोरोना: 32 जिलों में 10 से ज्यादा एक्टिव केस, 4 जिलों में 100 से ज्यादा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here