Loading...    
   


बाबा रामदेव वाली कंपनी ने कोरोना की दवा के मामले में यू-टर्न लिया, कहा कुछ और था लिखा कुछ और / NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। बाबा रामदेव वाली कंपनी पतंजलि आयुर्वेद ने कोरोनावायरस की दवा (कोरोनिल) बनाने के दावे से यू-टर्न ले लिया है। उत्तराखंड सरकार के आयुष विभाग की ओर से भेजे गए नोटिस कल लिखित जवाब देते हुए पतंजलि कंपनी अपने दावे से पलट गई।

बता दें कि पिछले मंगलवार को कोरोनल की लांचिंग के दौरान योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने कोरोनिल, श्वसारि बटी और अनु तेल से कोरोना के उपचार का दावा किया था। इस पर 24 जून को उत्तराखंड आयुष विभाग ने पतंजलि को नोटिस जारी किया था लेकिन अब पतंजलि अपने इस दावे से पलट गया है।

आचार्य बालकृष्ण ने क्लिनिकल ट्रायल के परिणाम भी बताए थे

गौरतलब है कि योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने हरिद्वार में प्रेस कांफ्रेंस कर कोरोनिल नामक इस आयुर्वेदिक दवा (CORONIL) के बारे में विस्तार से बताया था। इस दौरान बाबा रामदेव ने पतंजलि आयुर्वेद की औषधि दिव्य कोरोनिल टेबलेट के कोरोना संक्रमित मरीजों पर क्लीनिकल ट्रायल के परिणामों की घोषणा भी की थी। 

बाबा रामदेव ने टेबलेट में मौजूद जड़ी बूटियों के बारे में बताया था

यहां पतंजलि योगपीठ की ओर से दावा किया गया है कि कोरोना टेबलेट पर हुआ यह शोध पतंजलि रिसर्च इंस्टीट्यूट हरिद्वार और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस जयपुर के संयुक्त प्रयासों से किया गया। बाबा रामदेव ने उस समय बताया था कि इस दवा में सिर्फ देसी सामान का इस्तेमाल किया गया है। इस दवा में मुलैठी, काढ़ा समेत गिलोय, अश्वगंधा, तुलसी, श्वासरि का इस्तेमाल किया गया है।

सरकार को दिया लिखित जवाब में कहा: हमने कभी कोई दावा ही नहीं किया

बहरहाल अब उत्तराखंड आयुष विभाग द्वारा भेजे गए नोटिस के जवाब में पतंजलि अपने इस दावे से पलट गया है। बताया जा रहा है कि पतंजलि ने जवाब में ये लिखा कि उसने कभी भी कोरोना के इलाज का दावा नहीं किया। उसने केवल आयुर्वेद औषधि कोरोनिल टेबलेट के कोरोना संक्रमित मरीजों पर क्लीनिकल ट्रायल के परिणामों की जानकारी दी। इस औषधि के उपयोग से कोरोना संक्रमितों पर काफी सकारात्मक असर हुआ था।

29 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ठंडा और गर्म पानी एक साथ फ्रीजर में रखें तो पहले कौन सा बर्फ बनेगा
क्या सचमुच बारिश के साथ केंचुए भी गिरते हैं, यदि नहीं तो अचानक कहां से आते हैं
मध्यप्रदेश में नायब तहसीलदार की पत्नी का बलात्कार
भोपाल के फ्लैट में दो भाइयों की 8 दिन पुरानी लाशें मिली, 1 फर्श पर दूसरा फंदे से लटका मिला
इंदौर के बड़े व्यापारी और स्कूल के संचालक ने सुसाइड किया
GWALIOR में बारिश कम होती है फिर अकाल क्यों नहीं पड़ता, जबकि पहले पड़ता था
मध्य प्रदेश का मंत्रिमंडल विस्तार: लिस्ट में किस-किस का नाम, शपथ ग्रहण कब होगा
'धन्यवाद' के लिए अंग्रेजी में Thank You और Thanks दो शब्द क्यों है
आकाशीय बिजली में कितना करंट होता है, वह जमीन पर ही क्यों गिरती है
सरकारी अधिकारी निर्दोष नागरिक को जबरन रोककर रखे तो IPC की किस धारा के तहत मामला दर्ज होगा
ग्वालियर में मुरैना-भिण्ड से आने वालों पर प्रतिबंध, क्वारेंटाइन किए जाएंगे
भोपाल विधान एलीना सोसायटी में चौथी मंजिल से 5 लोगों सहित नीचे गिरी लिफ्ट
इंदौर में जज के बेटे ने स्ट्रीट डॉग को गोली मार दी, पालतू कुत्ते पर भोंक रहा था
मध्य प्रदेश कोरोना: 13000 से ज्यादा पॉजिटिव, 2500 से ज्यादा एक्टिव, मुरैना में त्राहिमाम
अतिथि शिक्षकों की नियमितीकण की प्रक्रिया शुरू करे सरकार: लक्ष्मण सिंह
मध्यप्रदेश में कॉलेज स्टूडेंट्स को जनरल प्रमोशन नहीं मिलेगा, पढ़िए कहां उलझ गया
कोर्ट में कपटपूर्ण याचिका दाखिल करने वाला वापस घर जाता है या जेल
OMG! मात्र ₹70000 की स्कूटी के लिए 18 लाख का VIP नंबर
कैलाश विजयवर्गीय: 2018 में भाजपा को हरवाया था, 2020 का उपचुनाव भी हरवाना चाहते हैं 
भोपाल में 24 नए कंटेनमेंट जोन की लिस्ट जारी, पूरे शहर में अब 210 इलाके संक्रमित
मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल विस्तार के लिए आनंदीबेन को प्रभार , पढ़िए दिल्ली में क्या हुआ


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here