Loading...    
   


PoK को लेकर तनाव शुरू, पाकिस्तान ने कदम उठा लिया, अब भारत की बारी है / NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। पाक अधिकृत कश्मीर को लेकर तनाव शुरू हो गया है। भारत द्वारा आपत्ति दर्ज कराने के बावजूद पाकिस्तान ने पाक अधिकृत कश्मीर में अपने अधीन सरकार बनाने का फैसला कर लिया है। अब भारत की बारी है। देखते हैं नरेंद्र मोदी सरकार किस तरह से जवाब देती है। 

केयरटेकर सरकार के बहाने PoK को पाकिस्तान में मिलाने की साजिश 

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने गिलगित-बाल्टिस्तान ऐंड केयरटेकर एमेंडमेंट ऑर्डर, 2020 पर मुहर लगा दी है। सार्वजनिक तौर पर कहा गया है कि गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र में निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए यह कदम जरूरी था लेकिन इसके पीछे पाकिस्तान की एक गहरी साजिश है। वह अवैध कब्जे वाले इलाके को अपनी सीमाओं में मिलाने की साजिश रच रहा है क्योंकि चीन के एक प्रोजेक्ट के लिए यह जरूरी है। 

PoK में चीन क्या कर रहा है 

पाकिस्तान के इस क्षेत्र में आर्थिक हित भी जुड़े हुए हैं इसीलिए यहां वह अपना नियंत्रण स्थापित करने के लिए नए-नए पैंतरे आजमा रहा है। इसी सप्ताह, पाकिस्तान की सरकार ने चीन की फर्म के साथ 442 अरब रुपये के एक कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर किए हैं। इस प्रोजेक्ट के तहत, गिलगित-बाल्टिस्तान में दिआमेर-भाषा बांध का निर्माण किया जाएगा। 

पूरे कश्मीर में शांति चाहती है भारत की जनता 

सोशल मीडिया पर भारत की जनता ने इस मामले में प्रतिक्रियाएं देना शुरू कर दिया है। भारत की जनता पूरे कश्मीर में शांति चाहती है। इसके लिए वह चाहती है कि भारत सरकार पहल करें। आतंकवादियों के कब्जे वाले इलाकों को खाली कराया जाए और उन्हें केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में शामिल कर लिया जाए। इलाके में शांति के लिए यह बहुत जरूरी है।

19 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कांग्रेस की गोपनीय लिस्ट ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास पहुंच गई
गर्भपात के दौरान यदि महिला की मृत्यु हो गई तो जेल कौन जाएगा डॉक्टर या पति
भारत में परमाणु बम का कोड और हमले का अधिकार किसके पास होता है
इस साल स्कूल नहीं खुलेंगे तो बच्चों को कैसे पढ़ाएंगे, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया
सीबीएसई 10वीं-12वीं परीक्षा का टाइम टेबल / CBSE 10th-12th BOARD EXAM TIME TABLE
मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं होगा, IAS अफसरों को मंत्री जैसे अधिकार दे दिए
कंप्यूटर को टीवी की तरह डायरेक्ट स्विच ऑफ क्यों नहीं कर सकते
टॉयलेट के तुरंत बाद पानी पीना चाहिए या नहीं, पढ़िए
महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात 
मनमाने बिजली बिल के मामले में चुप नहीं बैठूंगा: कमलनाथ
लॉक डाउन 4.0 भोपाल में क्या कर सकते है क्या नहीं पढ़िए
मध्यप्रदेश युवक कांग्रेस से सैंकड़ों ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थकों की सदस्यता बर्खास्त
कमलनाथ को पहला चुनावी झटका, कांग्रेस नेताओं की एक टीम भाजपा में शामिल
ग्वालियर: इंदरगंज में भीषण आग, 2 बच्चियों सहित 5 जिंदा जल गए, रेस्क्यू जारी
165Km/hr की स्पीड से आएगा तबाही का चक्रवाती तूफान, पढ़िए भारत में कहां तांडव करेगा
इंदौर लॉक डाउन 4.0 में: किसको कितनी छूट मिली, पढ़िए 
गर्भस्थ शिशु जिसका जन्म ही नहीं हुआ, उसकी हत्या अपराध मानी जाएगी या नहीं
टीम दिग्विजय सिंह ने श्रमिकों को भिखारी बताया


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here