Loading...    
   


मनमाने बिजली बिल के मामले में चुप नहीं बैठूंगा: कमलनाथ / MP NEWS

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को चेतावनी दी है कि वह बिजली कंपनियों द्वारा भेजे गए मनमाने ब्लॉक वह वापस लें एवं इंदिरा गृह ज्योति योजना के तहत बिजली बिल जनता तक पहुंचाएं। यदि सरकार ने इंदिरा ग्रह ज्योति योजना को बंद करने की कोशिश की तो मैं इस मामले में चुप नहीं बैठूंगा। लॉक डाउन करते ही यह लड़ाई सड़कों पर लड़ी जाएगी।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हमारी सरकार ने इंदिरा गृह ज्योति योजना प्रारंभ कर इस योजना के माध्यम से प्रदेश के एक करोड़ से अधिक उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली उपलब्ध कराकर एक बड़ी राहत प्रदान करने का जनहितैषी निर्णय लिया था।

हमारी इस योजना से जिन लोगों के पूर्व में बिजली के बिल हज़ारों में आते थे, वो सेकड़ों में आ गये थे। हमारी इस जनहितैषी योजना की तारीफ़ देश के अन्य राज्यों ने भी की थी। प्रदेश की जनता भी इस योजना के बाद अपनी कम राशि के बिल बताकर हमारी इस योजना की बढ़-चढ़कर तारीफ़ करती थी।

100 रुपये में 100 यूनिट बिजली और 150 यूनिट तक के उपभोक्ताओं को भी हमने इस योजना का लाभ दिया था। प्रदेश का हर वर्ग इस योजना का लाभ ले रहा था लेकिन हमारी सरकार जाते ही उपभोक्ताओं पर वापस भारी भरकम बिजली बिलों की मार शुरू हो गयी है। हमें प्रदेश भर से जनता से भारी भरकम बिजली बिल वापस मिलने की प्रतिदिन शिकायतें प्राप्त हो रही है। जिन लोगों के बिल सेकडो मे आते थे , वह अब वापस हज़ारों में आ रहे है। लूट-खसोट का खेल वापस चालू हो गया है।

कोरोना संक्रमण व लॉक डाउन को देखते हुए हमने सरकार से लोगों के तीन माह तक के बिजली बिल माफ़ करने की माँग की थी लेकिन संकट के इस दौर में बिल माफ़ करने की बजाय रीडिंग नहीं हो पाने से पिछले वर्ष की खपत के आधार मनमाने तरीक़े से भारी भरकम बिल उपभोक्ताओं को भेज उन पर दोहरी मार की जा रही है।

हम सरकार से माँग करते है कि जनहित की हमारी इंदिरा गृह ज्योति योजना का लाभ प्रदेश की जनता को अनवरत मिलता रहे , जनता को भारी भरकम बिजली बिलों से मुक्ति दिलायी जावे और कोरोना महामारी को देखते हुए प्रदेश की जनता के तीन माह के बिजली बिल माफ़ किये जाये अन्यथा कांग्रेस इस मामले में चुप नहीं बैठेगी और लॉक डाउन के बाद इस माँग को लेकर सड़क पर लड़ाई लड़ेगी।

16 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

टॉयलेट के तुरंत बाद पानी पीना चाहिए या नहीं, पढ़िए
चक्रवाती तूफान आने वाला है, 7 राज्यों के सैकड़ों शहरों को प्रभावित करेगा 
नए टू व्हीलर्स की हेडलाइट हमेशा ऑन क्यों रहती है
इंदौर के MTH हॉस्पिटल में भर्ती मरीज चौथी मंजिल से कूदा, मौत
MPPEB EXAM DATE: प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने 11 परीक्षाओं की तारीख घोषित की
कानून में संशोधन के बाद गर्भपात कब-कब अपराध की श्रेणी में आता है, जानिए
महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात 
ऑनलाइन पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते समय क्या करें और क्या नहीं करें
कांग्रेस की गोपनीय लिस्ट ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास पहुंच गई
मध्यप्रदेश में अगले एक महीने में 85000 कोरोना पॉजिटिव की संभावना: स्वास्थ्य विभाग
मस्जिद के लाउडस्पीकर से अजान दूसरों के मूल अधिकारों का उल्लंघन: हाईकोर्ट
शादी के लिए जाति, धर्म या पहचान छुपाने वाले के खिलाफ क्या कार्रवाई होती है
भोपाल में कंटेनमेंट एरिया की नई लिस्ट जारी / BHOPAL CANTONMENT AREA LIST
सीबीएसई 10वीं-12वीं परीक्षा का टाइम टेबल 
कुवैत से भोपाल लौटा छात्र कोरोना पॉजिटिव 7 की स्थिति गंभीर, 3 बार स्क्रीनिंग हुई थी
लॉकडाउन में भाजपा की गुटबाजी ओपन, पूर्वमंत्री और सांसद भी कूदे
जब SUV CAR में हैंडब्रेक होता है तो ट्रेन में क्यों नहीं होता
रहस्यमयी भीमकुंड कहां है जो प्राकृतिक आपदाओं की चेतावनी देता है 
मध्य प्रदेश: 24 सीटों पर चुनाव से पहले भाजपा में बगावत की सुगबुगाहट


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here