Loading...    
   


नाले में मिली युवक की लाश की लास्ट लोकेशन से राधा यादव हत्याकांड का रहस्य खुला / BHOPAL NEWS

भोपाल। कहते हैं कि अपराध कितनी भी प्लानिंग के साथ क्यों ना किया जाए किसी न किसी तरीके से वह उजागर हो ही जाता है। हबीबगंज थाना क्षेत्र में रहने वाले एक नाले में मिली युवक की लाश की लास्ट मोबाइल लोकेशन से 50 दिन पहले कोलार कॉलोनी में हुई महिलाएं राधा यादव की हत्या का रहस्य खुल गया। इस मामले में पुलिस ने 3 महिलाओं और तीन पुरुषों को गिरफ्तार किया है।

चूना भट्टी पुलिस ने दावा किया है कि उसने 50 दिन पहले हुए महिला राधा यादव हत्याकांड के आरोपियों को खोज निकाला है। पुलिस की कहानी के अनुसार पंचवटी कॉलोनी, करोंद में रहने वाली 46 साल की राधा यादव के कत्ल की प्लानिंग रेखा हरियाले, सुनीता प्रजापति और गुलाब बाई ने होली यानी 10 मार्च के दो दिन पहले ही कर ली थी। ताराचंद्र ने उन्हें अजय की मदद लेने के लिए कहा। अजय ने अपने दोस्त अभिषेक से बात की और कत्ल का सौदा 1.80 लाख रुपए में तय किया। तीनों महिलाओं ने अजय और अभिषेक को एडवांस के तौर पर 20 हजार रुपए दिए थे। ये रकम उन्होंने ताराचंद्र और मनोज से लेकर दी थी।

प्रशिक्षु डीएसपी ऋचा जैन के मुताबिक 18 मार्च को राधा रकम मांगने कोलार कॉलोनी पहुंची थी। योजना के तहत महिलाओं ने अजय व अभिषेक को राधा के आने की सूचना दे दी। रात आठ बजे अभिषेक ने राधा के गले पर चाकू से पहला वार किया। वारदात के बाद अजय व अभिषेक अलग दिशाओं में भागे। अभिषेक को लगा कि कोई पीछा कर रहा है। बचने के लिए उसने नाले में छलांग लगा दी। यहां पानी में दम घुटने से उसकी मौत हो गई। पांच दिन बाद उसका शव हबीबगंज पुलिस को नाले में मिला था।

एसपी साउथ साईं कृष्णा ने बताया कि राधा की हत्या के मामले में रेखा, सुनीता, गुलाब बाई, ताराचंद्र मेहरा, अजय निरगुडे और मनोज मेहरा को गिरफ्तार किया गया है। जबकि अभिषेक की मौत हो चुकी है। रेखा, सुनीता और गुलाब बाई ने राधा से रकम उधार ली थी, लेकिन चुका नहीं पा रही थीं। इस वजह से राधा उन्हें जलील करती थी। इसलिए राधा को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। इसके लिए उन्होंने राधा के लिए कोलार कॉलोनी में मैनेजर के तौर पर काम करने वाले ताराचंद्र मेहरा की मदद ली। ताराचंद्र ने भी कुछ लोगों को 8 लाख दिलवाए थे।

नाले में मिले शव और शाहपुरा थाने में दर्ज गुम इंसान का हुलिया मेल खा रहा था। सीसीटीवी फुटेज में राधा के कत्ल के बाद एक युवक नाले की ओर भागता नजर आ रहा था। पुलिस ने अभिषेक की कॉल डीटेल खंगाली तो पता चला कि राधा के कत्ल के वक्त वह घटनास्थल के पास ही था। फोन पर उसकी आखिरी बात 23 मिनट की अजय से हुई थी। दूसरी कॉल डीटेल से अजय की भी लोकेशन वहां मिल गई। इस आधार पर पुलिस ने अजय को हिरासत में लिया। पूछताछ में रेखा, सुनीता, गुलाब बाई, ताराचंद्र और मनोज की करतूत भी उजागर हो गई और सभी को गिरफ्तार कर लिया गया।

08 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

बर्फ कठोर होता है फिर पानी में डूबता क्यों नहीं, यहां पढ़िए
बस 10 दिन और दे दीजिए: इंदौर कलेक्टर की अपील 
जबलपुर कलेक्टर की हेयर कटिंग सोशल मीडिया पर वायरल
मध्य प्रदेश कोरोना 36वें जिले में, 3701 में से 114 पॉजिटिव
इंडक्शन कुकर गर्म क्यों नहीं होता जबकि हीटर गर्म हो जाता है 
मध्यप्रदेश में ई-पास के संबंध में नये निर्देश
ग्वालियर आउट ऑफ कंट्रोल: शराब की दुकानों के साथ पूरा बाजार भी खुल गया
पूरे भारत में आंधी-तूफान और बारिश की चेतावनी, 72 घंटे मौसम खराब रहेगा 
भोपाल के बाद एलजी गैस कांड: अब तक 8 लोगों की मौत 5000 से ज्यादा प्रभावित 
2018 में बंद किए गए शिवराज सिंह के फोटो वाले संबल योजना कार्ड फिर से एक्टिव 
सचिन अतुलकर को उज्जैन एसपी के पद से हटाया, तीन जिलों के एसपी बदले 
अपराधी यदि आपके बच्चे को किडनैप कर आपसे घोटाला या चोरी करवाए, तो दोषी कौन माना जाएगा 
इंदौर के करोड़पति व्यापारी कोरोना से मौत, परिवार के कई सदस्य पॉजिटिव 
इंदौर में गैस सिलेंडर बांटने वाले की कोराेना से मौत 
क्या इंसान के दिमाग में कंप्यूटर जैसे डीलिट और रिसाइकिल बिन फीचर्स होते हैं 
कोरोनावायरस पूरे मध्यप्रदेश में राहत, उज्जैन में आउट ऑफ कंट्रोल 
कोरोना के नाम पर कर्मचारियों का DA रोक लिया लेकिन IAS का क्यों नहीं रोका
लॉक डाउन की लत लग गई, आदेश के बाद भी ऑफिस नहीं खोले
ट्रेन से कटे शहडोल-उमरिया के 16 मजदूरों को कंपनी वाले घर से ले गए थे 
रेल गाड़ी के इंतजार में पटरी पर लेटे थे, मालगाड़ी गुजर गई, 16 मजदूरों की मौत 
यदि कोई बाहरी व्यक्ति धर्मस्थान को अपवित्र करे तो उसके खिलाफ क्या कार्रवाई होगी, पढ़िए 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here