Loading...    
   


ग्वालियर JAH में 2 कोरोना संदिग्ध मरीजों की मौत / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। ग्वालियर में तीन और कोरोना संदिग्ध मरीजों की साेमवार काे मौत हो गई। इनमें से दो मरीज जेएएच में इलाज ले रहे थे जबकि तीसरे की मौत घर पर हुई। उसे कोरोना संदिग्ध मानते हुए मोहल्ले वालों ने प्रशासन को खबर कर दी। इन तीनों के शव जेएएच के पोस्टमार्टम भवन में रखवा दिए गए हैं।  

किलागेट घासमंडी निवासी मनोज कुशवाह (25) हलवाई का काम करता है। उसके दो भाइयों की पहले ही मौत हो चुकी है। दो दिन पहले मनोज, क्षेत्र में पार्षद रहे जय सिंह सोलंकी के पास गया और बोला कि उसे बुखार, सिर दर्द और हाथ-पैर में टूटन हो रही है। श्री सोलंकी ने उसे इलाज के लिए रुपए देने के साथ ही राशन का सामान भी दिया। इसके बाद मनोज अपने घर लौट गया। सोमवार की सुबह जब मनोज की मां उसके पास गई तो वह मरा पड़ा था। 

इसके साथ ही  मुरार निवासी 70 वर्षीय मोहन लाल शर्मा का जेएएच के आइसोलेशन वार्ड में आैर केआरएच में भर्ती श्योपुर निवासी सविता पत्नी शिशुपाल की भी मौत हो गई। इन दोनों को भी काेरोना संदिग्ध बताया जा रहा है। 


28 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कार की स्टीयरिंग बीच सेंटर में क्यों नहीं होती, साइड क्यों होती है
yesterday और tomorrow को हिंदी में 'कल' क्यों बोलते हैं, दो अलग-अलग शब्द क्यों नहीं
क्या LAPTOP को बिस्तर पर रखकर चलाने से वह जल्दी खराब हो जाता है, यहां पढ़िए 
बस एक महीना और, सब सामान्य हो जाएगा: इंदौर कलेक्टर 
ग्वालियर में शादी के लिए नए नियम जारी, दूल्हा और दुल्हन अलग-अलग गाड़ियों में जाएंगे
इंदौर: 31 नए पॉजिटिव, टोटल 1207, हाई कोर्ट जज सहित 40 क्वॉरेंटाइन 
ब्रेकिंग! भिड़े की बेटी सोनू का अफेयर टप्पू से नहीं गोली से चल रहा है!
मध्य प्रदेश: 75 नए पॉजिटिव, टोटल 2165, 27वां जिला संक्रमित 
लॉकडाउन में अहमदाबाद से पैदल-पैदल इंदौर पहुंचे 20 लोग 
बहन की मदद के लिए आई युवती का देवर ने दुष्कर्म कर गर्भपात कराया 
प्रधानमंत्री ने लॉक डाउन की चाबी मुख्यमंत्रियों को सौंपी 
कांग्रेस विधायक ने लॉकडाउन में किसानों की सभा करके मुख्यमंत्री को गंदी गालियां दी 
30 अप्रैल को रिटायर हो रहे कर्मचारियों को संविदा नियुक्ति के आदेश
मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीजों को आनंद आएगा: सीएम शिवराज सिंह 
डिंडोरी में ताबड़तोड़ फायरिंग की तरह गिरे ओले, दीवारों पर ऐसे निशान जैसे कश्मीर में गोलियों के होते हैं (चौंकाने वाला वीडियो दखें) 
मध्य प्रदेश के कर्मचारियों से कोरोना के नाम पर कोई कटौती ना की जाए: संयुक्त मोर्चा
SC-ST के धनाढ्य लोगों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here