Loading...    
   


भोपाल में कोरोना अंतिम संस्कार के लिए 2 श्मशान घाट, 1 कब्रिस्तान आरक्षित / BHOPAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोनावायरस से संक्रमित एवं संदिग्ध लोगों की मृत्यु का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। इस बीच उनके अंतिम संस्कार को लेकर भी कई विवाद हो रहे हैं। संदिग्ध एवं संक्रमित मरीजों का अंतिम संस्कार चुनौती बन गया है। इसी के चलते सरकार ने भोपाल के दो श्मशान घाट और एक कब्रिस्तान कोरोना के लिए आरक्षित कर दिए हैं।

श्मशान घाट और कब्रिस्तान के कर्मचारियों का बीमा होगा

नगर निगम भोपाल के कमिश्नर श्री बी विजय दत्ता व अन्य अधिकारियों ने विश्रामघाट समितियों व कब्रिस्तान कमेटियों के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान निर्णय लिया गया कि शहर के भदभदा व सुभाष नगर विश्रामघाट में ही कोरोना संबंधित अंतिम संस्कार किए जाएंगे। वहीं, मुस्लिम समाज के मृतकों को जहांगीराबाद स्थित कब्रिस्तान में दफन किया जाएगा। इसके अलावा नगर निगम विश्रामघाट के सभी कर्मचारियों का बीमा भी करवाएगा।

शमशान घाट को सैनिटाइज करने के लिए नगर निगम ₹5000 प्रति शव देगा

बैठक में भदभदा विश्रामघाट समिति के सचिव ममतेश शर्मा ने कहा कि विश्रामघाटों के कर्मचारी कोरोना संक्रमित व संदिग्ध मरीजों का अंतिम संस्कार भी कर रहे हैं। ऐसे में इनकी सुरक्षा के लिए हर संभव इंतजाम की जाना चाहिए। उन्होंने विश्रामघाट के कर्मचारियों के बीमा का प्रस्ताव रखा। इस पर निगमायुक्त ने सहमति देते हुए कहा कि एक सप्ताह के अंदर निगम यह व्यवस्था कराएगा। निगमायुक्त ने बताया कि कोरोना संक्रमित या संदिग्ध प्रति शव अंतिम संस्कार के लिए पांच हजार रूपये समितियों के अकाउंट में ऑनलाइन ट्रांसफर किए जाएंगे।

27 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

इंदौर: 31 नए पॉजिटिव, टोटल 1207, हाई कोर्ट जज सहित 40 क्वॉरेंटाइन 
बस एक महीना और, सब सामान्य हो जाएगा: इंदौर कलेक्टर 
बहन की मदद के लिए आई युवती का देवर ने दुष्कर्म कर गर्भपात कराया 
मध्यप्रदेश में घरेलू महिलाओं के लिए रोजगार, 1100 रुपए प्रतिदिन तक कमाइए
मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीजों को आनंद आएगा: सीएम शिवराज सिंह


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here