Loading...    
   


SR25 ASHA CONFECTIONARY की महंगी कार का तमाशा बन गया, उठक-बैठक लगानी पड़ी

इंदौर। मध्य प्रदेश के सबसे करोड़पति उद्योगपतियों के शहर इंदौर में SR25 ASHA CONFECTIONARY पीले रंग की फेरारी कार को अपनी पहचान बनाया करते थे। आज सारा देश यह जानने की कोशिश कर रहा है कि पीले रंग की फेरारी कार इंदौर में किस उद्योगपति की है। 

दरअसल घटना ही कुछ ऐसी हुई है। जिस फेरारी कार को देखकर बड़े-बड़े अफसर बस ताकते रह जाते हैं, सुखालिया चौराहे पर पुलिस ने दबोच लिया। इतना ही नहीं फेरारी में सवार युवराज को उतारकर उठक बैठक भी लगवाई। आशा कन्फेक्शनरी के युवराज पुलिस को अपने पास मौजूद पास दिखा रहे थे परंतु पुलिस का कहना था कि आपने फेस मास्क क्यों नहीं यूज़ किया। बताने की जरूरत नहीं कि इंदौर में कोरोनावायरस के 1000 से ज्यादा मरीज हैं। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर पेट्रोल की आग की तरह वायरल हुआ है। सारा देश यह जानने की कोशिश कर रहा है कि पीले रंग की फेरारी कार किसकी है और उठक बैठक लगाने वाले युवराज कौन है। 

फरारी कार MP09CW0001 की कुण्डली

Registration No: MP09CW0001
Owner Sr No : 1
Registration Date : 14-09-2017
Owner's Name: ASHA CONFECTIONARY
Issue Date : 29-09-2017
Permanent Address: 13 - C,13-B 1 SECTOR-C SANWER ROAD INDUSTRIAL AREA, INDORE 

ABOUT ASHA CONFECTIONARY 


SR25 (Asha Confectionery) are a leading name in manufacturing,trading, exporting and supplying a wide array of candy, sugar boiled & jelly confectionery. (हिंदी: आशा कन्फेक्शनरी में कैंडी, चॉकलेट, केक, जेली और ऐसे ही कई कन्फेक्शनरी आइटम बनाए जाते हैं। यहां से एक्सपोर्ट लिखे जाते हैं। बाजार में इनके उत्पादों पर SR25 लिखा हुआ दिखाई देता है।) पता: 13-B-1, 13-C, Sanwer Rd Industrial Area, Sector C, Sanwer Road Industrial Area, Indore, Madhya Pradesh 452015 
आशा कन्फेक्शनरी के मालिक का नाम दीपक दरयानी (Deepak Dariyani) है।

कार देखकर ही उनकी बर्ताव बदल गया: संस्कार दरयानी

इस मामले में युवक संस्कार दरयानी का कहना कि मैं अपनी स्पोर्ट्स कार पोर्श में अकेले जा रहा था। इस दौरान चौराहे पर मौजूद नगर सुरक्षा समिति के लोगों ने मेरी कार रोक ली, जिसके बाद मैंने कार को एक साइड में लगा दिया। कार देखकर ही उनकी बर्ताव बदल गया वो अपनी ड्यूटी का गुस्सा मुझ पर दिखाने लगे। मैं कार में मास्क इसलिए नहीं पहना था क्योंकि मैं उसमें अकेला था।

डंडा दिखाकर वीडियो बनाते रहे और पूरी टीम हंसती रही: संस्कार दरयानी

युवक का कहना है कि इसके बाद उन्होंने मुझ पर कमेट्स किए और फिर उठक-बैठक लगाने के लिए कहा। मैंने उन्हें अपना पास भी बताया जो बाणगंगा पुलिस थाने से जारी किया गया था, पर उन्होंने मुझसे कहा कि इसे कार के अंदर फेंक दो। इसके बाद वो मुझे डंडा दिखाकर वीडियो बनाते रहे और पूरी टीम हंसती रही।

हम रोज 10 हजार पैकेट भोजन का वितरण करते हैं: संस्कार दरयानी

युवक संस्कार दरयानी का कहना है कि लॉकडाउन के दौरान हम 10 हजार पैकेट भोजन का वितरण नगर निगम में कर रहे हैं, इसके साथ ही दिन और रात में ड्यूटी पर लगे अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को भी चाय बांटते हैं। फिर भी मेरे साथ ऐसा व्यवहार हुआ जो ठीक नहीं है।

26 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

कार की स्टीयरिंग बीच सेंटर में क्यों नहीं होती, साइड क्यों होती है 
रेलवे स्टेशन और रेलवे जंक्शन में क्या अंतर है, एक स्टेशन कब जंक्शन बन जाता है 
ब्रेकिंग! भिड़े की बेटी सोनू का अफेयर टप्पू से नहीं गोली से चल रहा है!
सार्वजनिक स्थान पर आपत्तिजनक बयान, किसी धारा के तहत FIR दर्ज होगी 
SC-ST के धनाढ्य लोगों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट 
जीवन शक्ति योजना: मध्य प्रदेश की महिलाओं के लिए घर बैठे रोजगार 
दुकान खोलने की अनुमति पर गृह मंत्रालय का स्पष्टीकरण 
SLAP KINGS बना दुनिया का सबसे लोकप्रिय मोबाइल गेम, PUBG और Call Of Duty को पीछे छोड़ा
ग्वालियर 10 मंजिला एमके सिटी में आग, लोग चौथी मंजिल से कूदे, बिल्डर गिरफ्तार, मामला दर्ज
ज्योतिरादित्य सिंधिया: बीजेपी ज्वाइन करने के बाद भी कांग्रेस के कनेक्शन में क्यों हैं 
मध्य प्रदेश: 99 नए मामले, टोटल 1945, भारत में पांचवें नंबर पर 
मध्यप्रदेश में लॉकडाउन से सशर्त राहत, पढ़िए क्या खुलेगा, क्या बंद रहेगा 
क्या LAPTOP को बिस्तर पर रखकर चलाने से वह जल्दी खराब हो जाता है, यहां पढ़िए
डांगरी ड्रेस पहनने वाले पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी: PHQ 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here