कमलनाथ को झटका, दिग्विजय सिंह ने विभा को दिखाकर अर्चना को बिठा दिया - MP NEWS

भोपाल
। दिग्विजय सिंह को लोग ऐसे ही राजनीति के चाणक्य नहीं कहते। महिला कांग्रेस के अध्यक्ष पद की रेस में कमलनाथ ने नूरी खान को उतारा तो दिग्विजय सिंह ने विभा पटेल का नाम बढ़ा दिया और फिर 1-1=0 करके अर्चना जायसवाल को अध्यक्ष पद पर बिठा दिया। इस प्रकार मध्य प्रदेश कांग्रेस की नई राजनीति के पहले अध्याय में राधौगढ़ के राजा दिग्विजय रहे। 

दिग्विजय सिंह ने हमेशा अर्चना जायसवाल को आगे बढ़ाया

सनद रहे कि अर्चना जायसवाल को दूसरी बार प्रदेश महिला कांग्रेस की कमान दी गई है। इससे पहले दिग्विजय शासनकाल में उन्हें महिला कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया था। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अर्चना जायसवाल ने 2015 में इंदौर महापौर पद के चुनाव में उतारा था। कुल मिलाकर जब-जब मौका मिला दिग्विजय सिंह ने अर्चना जायसवाल को आगे बढ़ाया है। अब 2023 का विधानसभा चुनाव अर्चना जायसवाल के कार्यकाल में गिना जाएगा। 

यही तो दिग्विजय सिंह की अदा है 

कांग्रेस संगठन की राजनीति में दिग्विजय सिंह का हाथ कोई नहीं पकड़ सकता। भले ही कमलनाथ, दिग्विजय सिंह से सीनियर हों और दिल्ली दरबार में दिग्विजय सिंह से ज्यादा प्रभावशाली परंतु मध्य प्रदेश कांग्रेस की जमीन में दिग्विजय सिंह एक वटवृक्ष की तरह हैं। जिसकी परिक्रमा की जा सकती है परंतु जिसे उखाड़ा नहीं जा सकता। कमलनाथ कांग्रेस पार्टी के केवल उतने ही पदों पर अपनी पसंद के लोगों को नियुक्त कर सकते हैं, जिन पर दिग्विजय सिंह की नजर ना हो। 

यह दिग्विजय सिंह की पुरानी अदा है, वह अपने सामने वाले खिलाड़ी को बड़ी ही सरलता के साथ कंफ्यूज कर देते हैं और फैसले के वक्त उसी कन्फ्यूजन का फायदा उठा ले जाते हैं। इसी ट्रिक का यूज करते हुए उन्होंने कैलाश वासी श्रीमंत महाराजा माधवराव सिंधिया को कभी मुख्यमंत्री नहीं बनने दिया। जबकि वह महाराजा के साथ साथ प्रधानमंत्री राजीव गांधी के प्रिय मित्र थे। ✒ उपदेश अवस्थी

28 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

BHOPAL NEWS- वैक्सीन नहीं लगवाने वाले शिक्षकों का 1 महीने का वेतन कटेगा
EMPLOYEE NEWSकमलनाथ ने पंचायतकर्मियों की हड़ताल का समर्थन किया
MPPSC ANSWER KEY जारी, यहां देखें डाउनलोड करें
MP ELECTION NEWSमध्यप्रदेश नगरीय निकाय चुनाव- कब होंगे, आयोग ने हाईकोर्ट में बताया
मध्य प्रदेश मानसून- ग्वालियर-चंबल संभाग में मूसलाधार, 10 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी 
MP EMPLOYEE NEWSमध्यप्रदेश में कर्मचारियों की ट्रांसफर की लास्ट डेट बढ़ाई
MP NEWS- शिक्षा मंत्री ने चयनित शिक्षकों को परमानेंट धरने के लिए भेजा
MP EMPLOYEE NEWS- वित्त मंत्रालय का स्पष्टीकरण भी बेअसर, कर्मचारी हड़ताल पर अड़े
MP NEWS- प्रतीक्षा की मां की प्रतीक्षा अब कभी खत्म नहीं होगी, हिमाचल में मौत
MPPSC EXAM- टाइम से पहले कॉपियां छीन लीं, सेंटर पर घड़ी ही नहीं थी
MP NEWS- देवास का युवक, झांसी की युवती, मंदसौर के होटल में लाशें मिली
 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiत्रिपुंड का वैज्ञानिक महत्व क्या है, दिखावे के लिए तो नहीं लगाते, यहां पढ़िए 
GK in Hindiहार्ड डिस्क की क्षमता, GB और TB के बाद क्या आता है
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
GK in Hindi₹1 के नोट पर गवर्नर के हस्ताक्षर क्यों नहीं होते हैं 
GK in Hindiइंसान को शेर कहना शान और गधा कहना अपमान क्यों माना जाता है 
GK in Hindi- खतरे का रंग लाल क्यों होता है काला क्यों नहीं
GK in Hindiपुष्पक विमान किस ईंधन से चलता था, पेट्रोल और बैटरी तो उस समय होते नहीं थे
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here