MP NEWS- 52000 गांव, 312 जनपद और 52 जिलों में पंचायत का काम ठप, कर्मचारी हड़ताल पर

भोपाल समाचार डॉट कॉम
। मध्यप्रदेश पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करने वाले 17 संगठनों के 70000 कर्मचारी एवं अधिकारी गुरुवार से हड़ताल पर हैं। नतीजा मध्य प्रदेश के 52000 गांव, 312 जनपद पंचायतों और 52 जिलों में पंचायत विभाग का कामकाज ठप हो गया है।

पहले चेतावनी दी थी, सरकार ने बात तक नहीं की

गुरुवार से मध्य प्रदेश की सभी 23000 ग्राम पंचायतों और 312 जनपद पंचायतों के अधिकारी एवं कर्मचारी हड़ताल पर चल गए हैं। हड़ताली कर्मचारियों का कहना है कि वेतन वृद्धि, केंद्र समान डीए, रिटायरमेंट के बाद पेंशन समेत विभिन्न मांगों को लेकर सरकार से कई बार पत्राचार किया लेकिन सरकार ने उनकी मांगो पर अब तक कोई विचार नहीं किया। इस वजह से उन्हें हड़ताल करनी पड़ रही है। इन कर्मचारियों ने इसके पहले भी एक दिन की हड़ताल कर सरकार को चेतावनी दी थी लेकिन सरकार ने कोई बातचीत नहीं की। 

52 हजार गांव, 312 जनपद, 17 कर्मचारी संगठन और 70000 कर्मचारी

दावा किया गया है कि इस हड़ताल में 52 हजार गांव और 312 जनपद और जिलों, राज्य संवर्ग के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के कर्मचारी शामिल हुए। हड़ताल को 17 घटक संगठनों एवं 70000 कर्मचारियों का समर्थन हासिल है। इन संगठनों ने चेतावनी दी कि अधिकारियों कर्मचारियों की महत्वपूर्ण मांगों का निराकरण जल्द नहीं किया गया तो मध्य प्रदेश पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग संयुक्त मोर्चा बड़ा आंदोलन करेगा।

पंचायत मंत्री संभाल नहीं पाए इसलिए हड़ताल

इससे पहले लंबित मांगों को लेकर संयुक्त मोर्चे का एक दल प्रदेश के पंचायत मंत्री से मुलाकात कर चुका है लेकिन सिर्फ मौखिक आश्वासन के अलावा कोई सहानुभूति पूर्वक जवाब न मिलने के कारण कर्मचारियों ने यह बड़ा कदम उठाया है। फ़िलहाल पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के कर्मचारियों की हड़ताल से बड़ा असर सरकारी कामकाज पर पड़ेगा क्योंकि ग्रामीण अंचलों में प्रस्तावित और क्रियान्वित होने वाली सरकारी योजनाएं फिलहाल ठप्प पड़ गई हैं।

हड़ताल में कौन कौन से संगठन शामिल हैं

प्रदर्शन में जनपद सीईओ, ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक, मनरेगा डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास अभियंता संघ, मनरेगा अधिकारी कर्मचारी संघ, जिला जनपद पंचायत कर्मचारी संगठन, विकासखंड समन्वयक संघ, प्रधानमंत्री आवास योजना स्वच्छता मिशन अधिकारी कर्मचारी संघ, राज्य आजीविका मिशन कर्मचारी संघ, पंचायत समन्वयक अधिकारी कर्मचारी संगठन सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी संगठनों का प्रदर्शन में समर्थन रहा। अपनी विभिन्न मांगों को लेकर विभागीय कर्मी एकजुट हैं।






23 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- आधे कर्मचारियों को छुट्टी पर भेजने की तैयारी, फरलो योजना और फार्मूला 20-50 एक साथ लांच करने का आइडिया
MP NEWS- बिजली कंपनी में बिल वसूली एजेंट की भर्ती सूचना
MP NEWS- चयनित शिक्षकों को नियुक्ति के लिए नई तारीख
BHOPAL NEWS- एमबीए पास लड़की हनी ट्रैप का शिकार
MP CORONA NEWS- सभी सरकारी ऑफिस सप्ताह में 2 दिन लॉकडाउन रहेंगे
UJJAIN में साधुओं के 800 साल पुराने कंकाल मिले, इल्तुतमिश ने नरसंहार करवाया था
MP NEWS- 23000 ग्राम पंचायत और 312 जनपद पंचायतों में हड़ताल
मध्य प्रदेश मानसून- 3 जिलों के लिए रेड अलर्ट, 8 में भारी वर्षा की चेतावनी
MP NEWS- सुबह मुलाकात हुई शाम को जिलाध्यक्ष बदल गया
BHOPAL CORONA NEWS- यह लक्षण दिखाई दें तो तत्काल अस्पताल पहुंचे
मध्य प्रदेश सिविल सेवाएं फरलो योजना 2002 क्या है, नियम एवं शर्तें - What is MP furlough scheme 2002

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in HindiRefresh करने पर क्या कंप्यूटर फिर से तरोताजा हो जाता है
GK in Hindi- खतरे का रंग लाल क्यों होता है काला क्यों नहीं
GK in Hindiपुष्पक विमान किस ईंधन से चलता था, पेट्रोल और बैटरी तो उस समय होते नहीं थे
GK in Hindiआवारा गाय सड़क के बीच क्यों बैठतीं हैं, क्या सुसाइड करना चाहतीं हैं 
GK in Hindi- मादा कोयल की आवाज मधुर नहीं होती, वह तो अपराधी होती है
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here