Loading...    
   


ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए गांधी परिवार के दरवाजे बंद

भोपाल
। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा अपमानित किए जाने के बाद कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में गए मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति गांधी परिवार की लगातार नरम रुख बनाए हुए था लेकिन स्वर्गीय राजीव गांधी की पुण्यतिथि के बाद से रिश्तो में कड़वाहट बढ़ गई है। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए अपने दरवाजे बंद कर दिए हैं। दोनों ने ट्विटर पर ज्योतिरादित्य सिंधिया को अनफॉलो करके अपना स्टैंड क्लियर कर दिया है।

राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने क्या किया 

भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के बाद राज्यसभा सदस्य बने ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने पिता के मित्र यानी पिता तुल्य स्वर्गीय राजीव गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर उन्हें 'आधुनिक भारत का निर्माता' बताया था। थोड़ी ही देर बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी श्रद्धांजलि में से 'आधुनिक भारत का निर्माता' शब्द वापस ले लिए। 

राहुल और प्रियंका गांधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया से क्यों नाराज है 

ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने के लिए राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने अपनी क्षमताओं के अनुसार पूरी ताकत लगा दी थी। इससे ज्यादा बड़ी बात यह है कि राजीव गांधी और माधवराव सिंधिया के बीच राजनीतिक नहीं बल्कि पारिवारिक रिश्ता था। ऐसी स्थिति में ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अपने पिता तुल्य स्वर्गीय राजीव गांधी की श्रद्धांजलि मैसेज 'आधुनिक भारत का निर्माता' शब्द हटाना, उस पारिवारिक रिश्ते की डोर को तोड़ गया जिसे सिर्फ राहुल और प्रियंका गांधी ने थाम रखा था। 

राहुल गांधी को ज्योतिरादित्य सिंधिया की वापसी की उम्मीद थी 

पॉलिटिकल गॉसिप में यह चर्चा कई बार हो चुकी थी लेकिन एक बार राहुल गांधी ने सार्वजनिक कार्यक्रम में भी ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति अपना नजरिया स्पष्ट कर दिया था। राहुल गांधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया के जाने से दुखी थे परंतु नाराज नहीं थे। उन्हें उम्मीद थी कि 2023 के चुनाव से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया वापस लौट आएंगे और कांग्रेस पार्टी बुजुर्गों की जकड़ से मुक्त हो जाएगी। तब वह ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बना देंगे। 

03 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here