Loading...    
   


क्या सचमुच पेट में पेड़ उग सकता है यदि कोई बीज निगल जाएं - GK IN HINDI with VIDEO

बचपन में हमेशा माता-पिता और परिवार के लोग कहते थे कि यदि चबा-चबाकर नहीं खाया तो पेट में उस चीज का पेड़ उग आएगा। या फिर संतरे का बीज खा लिया तो पेट में संतरे का पेड़ उग आएगा। बाद में समझ आया कि वह बच्चों को खाना खाने का तरीका सिखा रहे होते थे परंतु प्रश्न यह है कि यदि कोई बीज (जो कुछ ही घंटों में अंकुरित हो जाता है) निगल लिया जाए तो क्या सचमुच पेट में पेड़-पौधा उग सकता है।

सबसे पहले पेट की पाचन प्रक्रिया को समझते हैं 

अपने सवाल का जवाब प्राप्त करने के लिए हमें सबसे पहले पेट की पाचन प्रक्रिया को संक्षिप्त में समझना होगा। विकिपीडिया के अनुसार पाचन वह क्रिया है जिसमें भोजन को यांत्रि‍कीय और रासायनिक रूप से छोटे छोटे घटकों में विभाजित कर दिया जाता है ताकि उन्हें रक्तधारा में अवशोषित किया जा सके। पाचन एक प्रकार की अपचय क्रिया है: जिसमें आहार के बड़े अणुओं को छोटे-छोटे अणुओं में बदल दिया जाता है। (इस हिसाब से पेट में जैसे ही बीज जाएगा उसके बहुत छोटे-छोटे टुकड़े हो जाएंगे। और निश्चित रूप से पेट में कोई पौधा अंकुरित नहीं हो पाएगा।)

पेट नहीं लेकिन फेफड़ों में बीज अंकुरित हो जाते हैं, पौधे उग आते हैं

मेडिकल साइंस की हिस्ट्री में कुछ ऐसी घटनाओं का जिक्र है जिसमें पेट तो नहीं लेकिन लोगों के फेफड़ों में बीज अंकुरित हुए हैं और एक घटना में तो काफी बड़ा पौधा मिला जिसने मरीज की सांस लेने की प्रक्रिया को बंद कर दिया था। सबसे ताजा घटना अगस्त 2010 में यूनाइटेड स्टेट के एक राज्य मैसाचुसेट्स (Massachusetts) की है। रिटायर्ड शिक्षक Ron Sveden को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। डॉक्टर ने फेफड़ों का एक्सरे निकाला तो दिखाई दिया कि एक पौधा पनप रहा है। ऑपरेशन करके पौधे को बाहर निकाला गया। दरअसल, मटर का एक दाना फेफड़ों में फस गया था जो अंकुरित हो गया। 

Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article

मजेदार जानकारियों से भरे कुछ लेख जो पसंद किए जा रहे हैं

(current affairs in hindi, gk question in hindi, current affairs 2019 in hindi, current affairs 2018 in hindi, today current affairs in hindi, general knowledge in hindi, gk ke question, gktoday in hindi, gk question answer in hindi,)


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here