Loading...    
   


नर्क के द्वार पृथ्वी पर कहां-कहां मौजूद है, मजेदार जानकारी यहां पढ़िए - GK IN HINDI

बहुत सारे लोग जानते हैं कि धरती पर कुछ जगह ऐसी है जिन्हें पाताल तक जाने वाली गुफा कहा जाता है। कुछ रास्तों को स्वर्ग का रास्ता भी बताया जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं इसी पृथ्वी पर कुछ रहस्यमई दरवाजे हैं जिन्हें नर्क का द्वार कहा जाता है। इनमें से एक तो ऐसा है जिसमें यदि कोई जीवित मनुष्य या फिर पक्षी प्रवेश करने की कोशिश करता है तो उसकी चौखट पर ही मर जाता है। आइए पढ़ते हैं रहस्यमई दरवाजों की कहानी:- 

इटली में मिला नर्क का द्वार, आर्कियोलॉजिस्ट अमेदो ने घोषित किया 

दुनिया के महत्वपूर्ण देशों में से एक इटली में नर्क का द्वार मौजूद है। नैप्लस इलाके में स्थित इस दरवाजे के बारे में 2000 साल पहले लिखी गई धार्मिक इतिहास की किताब में मिलता है। सन 1932 में आर्कियोलॉजिस्ट अमेदो मैउरी ने इसे नर्क का द्वार घोषित कर दिया था। इससे पहले उन्होंने इस गुफा और दरवाजे का काफी अध्ययन किया। अमेदो मैउरी इटली के काफी प्रसिद्ध आर्कियोलॉजिस्ट थे। उनकी बात पर सभी विश्वास करते थे। इसलिए किसी ने भी उनकी घोषणा पर अविश्वास नहीं किया और तब से लेकर अब तक कोई इस दरवाजे के अंदर नहीं गया।

दक्षिणी तुर्की में स्थित है नरक का दरवाजा, जहरीली गैस और धुआं निकलता रहता है

दक्षिणी तुर्की के हीरापोलिस शहर में एक बेहद प्राचीन मंदिर है। इस मंदिर को नरक का दरवाजा माना जाता है। इस मंदिर के दरवाजे में से धुआं निकलता रहता है। मंदिर के अंदर काफी जहरीली गैस मौजूद है। मंदिर के आसपास कार्बन डाइऑक्साइड की उपलब्धता सामान्य से बहुत अधिक है। इसी के कारण ऑक्सीजन कम है। ग्रीक भूशास्त्री स्ट्राबो भी इस जगह को जानलेवा मानते हैं। यह जगह पूरी तरह से वाष्प से भरी हुई है। यहां हजारों पक्षियों के शव दिखाई देते हैं क्योंकि उन्होंने दरवाजे के अंदर प्रवेश करने की कोशिश की। इस दरवाजे के अंदर नर्क हो या ना हो लेकिन ऑक्सीजन की कमी के कारण मृत्यु सुनिश्चित है।

पेंसिल्वेनिया के जंगल में नर्क के 7 दरवाजे

HELLAM टाउनशिप, पेंसिल्वेनिया के बारे में अफवाह है कि आसपास के जंगल में नर्क के 7 दरवाजे मौजूद हैं। इनमें से एक दिखाई देता है। प्रवेश करने पर दूसरा और फिर तीसरा दिखाई देता है। हालांकि अब तक किसी भी इंसान ने सातों दरवाजे देखने का दावा नहीं किया है। 19वीं सदी में एक व्यक्ति इस दरवाजे के नजदीक चल गया था बाद में लोगों को उस की जली हुई लाश मिली। लोगों ने उसे मानसिक रूप से अस्वस्थ करार दिया और नरक के देवता से माफी मांगी। इसके बाद कभी कोई नर्क के दरवाजे वाले जंगल में नहीं गया। Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article 

सामान्य ज्ञानः कुछ मजेदार जानकारियां

(general knowledge questions answers, gk questions in hindi, general knowledge quiz, gk questions for kids, samanya gyan, general knowledge in hindi,)


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here