Loading...    
   


ज्योतिरादित्य सिंधिया पर सर्जिकल प्रोटेस्ट करने वाले छात्र नेताओं के खिलाफ FIR - GWALIOR NEWS

भोपाल।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर में महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने छापामार विरोध प्रदर्शन करने वाले 11 छात्र नेताओं के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। यह छात्र नेता महाराजा की हाई सिक्योरिटी को चकमा देते हुए उनके सामने तक पहुंच गए थे और उन्हें धिक्कार पत्र के साथ बेशर्म का फूल सौंप दिया था।

प्रदर्शनकारी छात्र नेताओं के खिलाफ क्या मामला दर्ज किया गया

सभी 11 प्रदर्शनकारी छात्र नेता कांग्रेस पार्टी की छात्र इकाई एनएसयूआई के कार्यकर्ता हैं। सभी के खिलाफ कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने एवं रूल ऑफ़ सिक्स का उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया गया है। रूल ऑफ़ सिक्स का मतलब है धारा 144 के तहत एक स्थान पर एक साथ 6 से अधिक व्यक्ति खड़े नहीं हो सकते। धारा 144 का उल्लंघन करने पर आईपीसी की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया जाता है।

ग्वालियर में ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ छात्र नेताओं ने क्या किया था

राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी कार से सड़क मार्ग द्वारा दिल्ली के लिए रवाना हुए। तभी गोला का मंदिर चौराहा फुट ओवरब्रिज पर NSUI नेता सचिन द्विवेदी, वंश माहेश्वरी, सचिन भदौरिया और यतेन्द्र दौहरे के अलावा 6 से 7 दूसरे सदस्यों ने सिंधिया की कार आते ही उन्हें घेर लिया। युवाओं को सामने देखकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी कार का शीशा ओपन करके उनकी बात सुनने का प्रयास किया तभी NSUI नेता सचिन ने सिंधिया को बेशरम के फूल और धिक्कार पत्र सौंप दिया। पत्र की भाषा पढ़कर सिंधिया का चेहरा लाल पड़ गया और वह कार का कांच चढ़ाकर आगे निकल गए। पत्र में लिखा था कि कोविड संक्रमण से जब लोग मर रहे थे, तब आप कहां थे। जैसे ही संक्रमण काबू में आया और अनलॉक हुआ तो आप आपदा में राजनीति करने आ गए।

सिंधिया के खिलाफ प्रदर्शन करने पर किस ने मामला दर्ज करवाया

ज्योतिरादित्य सिंधिया का रास्ता रोकने वाले NSUI के नेताओं के खिलाफ किसी ने शिकायत नहीं की है, बल्कि TI गोला का मंदिर थाना विनय शर्मा ने स्वयं मामले को संज्ञान में लिया है। साथ ही FIR में लिखा है कि सिंधिया के गुजरते समय गोला का मंदिर पर प्वाइंट लगाया था। वहां NSUI के नेता सचिन और अन्य ने आकर सिंधिया के वाहन के सामने नारेबाजी कर हंगामा किया। अभी कोविड के लिए गाइडलाइन जारी है। उन्होंने न तो सोशल डिस्टेंस रखा न ही रूल ऑफ सिक्स नियम का पालन किया। इस कारण आपदा अधिनियम के तहत NSUI नेता सचिन द्विवेदी, वंश माहेश्वरी, यतेन्द्र दौहरे, सचिन भदौरिया सहित 6 से 7 अन्य पर मामला दर्ज किया गया है।

13 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here