Loading...    
   


हर मरीज को इलाज के लिए बिस्तर दिया जाए: सीएम शिवराज सिंह ने कहा - MP NEWS

भोपाल
। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में हर कोविड मरीज को इलाज के लिए आवश्यकता अनुसार सामान्य, ऑक्सीजन एवं आई.सी.यू. बिस्तर उपलब्ध कराए जाएंगे। इसके लिए हर जिले में निरंतर बिस्तर बढ़ाए गए हैं। सभी जिले यह सुनिश्चित करें, कि हर कोविड मरीज़ को उपचार के लिए अस्पतालों में बिस्तर मिलें।

सर्दी-जुकाम, खाँसी आदि के मरीज नि:शुल्क मेडिकल किट प्राप्त करें: शिवराज सिंह

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना को छुपाएँ नहीं बताएँ। शुरू में ही दवा प्रारंभ होने पर यह बीमारी ठीक हो जाती है, परन्तु विलंब करने पर जानलेवा हो जाती है। किल कोरोना अभियान के अंतर्गत घर-घर सर्वे अभियान चलाया जा रहा है। नगरों में कोविड सहायता केन्द्र बनाए जा रहे हैं। सर्दी-जुकाम, खाँसी आदि के मरीज नि:शुल्क मेडिकल किट प्राप्त करें और तुरंत दवाएँ लें।

कोरोना के हर मरीज को दवा देकर स्वस्थ किया जाए: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोविड के विरूद्ध अभियान को प्रदेश में जन-आंदोलन बनाया जाए। इसमें समाज के सभी वर्गों को जोड़ा जाए। गाँव-गाँव, शहर-शहर सर्वे कर एक-एक छुपे मरीज की पहचान की जाए तथा उसे दवा देकर स्वस्थ किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना नियंत्रण कोर ग्रुप की बैठक ले रहे थे। संबंधित मंत्री और अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में शामिल हुए।

75% मरीज होम आइसोलेशन में

प्रदेश में कुल कोरोना मरीजों में 75% होम आइसोलेशन में हैं तथा 25% अस्पतालों में है, जिनमें से 14% ऑक्सीजन बैड्स पर, 7% आई.सी.यू बैड्स पर तथा 4% मरीज सामान्य बैड्स पर हैं।

72 प्रकरणों में लगभग 16 लाख रूपए की राशि वापस

प्रदेश में कोविड के इलाज के लिए निजी चिकित्सालयों द्वारा अधिक राशि लिए जाने के कुल 72 प्रकरणों में 15 लाख 97 हजार रूपए की राशि मरीजों के परिजनों को लौटाई गई है और 25 व्यक्तियों के‍विरूद्ध एफआईआर दर्ज की गई। अस्पतालों की अधिक बिलिंग पर कलेक्टर एवं स्थानीय पुलिस थाने में शिकायत करें। 

मध्यप्रदेश को स्पूतनिक मिलने की संभावना

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि 45 वर्ष से ऊपर वालों तथा 18 वर्ष से अधिक वालों को वैक्सीन की निरंतर उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। वैक्सीन आयात करने की संभावना पर भी विचार किया जाए। बताया गया कि रूस से जून के प्रथम सप्ताह से स्पूतनिक वैक्सीन मिल सकेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि वैक्सीन का एक भी डोज़ वेस्ट नहीं होना चाहिए।

08 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here