Loading...    
   


MP CORONA: मीडिया बुलेटिन एवं आज की न्यूज़ हेडलाइंस 18 MAY 2021

भोपाल
। मध्यप्रदेश शासन के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी कोरोनावायरस मीडिया बुलेटिन में आज फिर कुछ अच्छी खबरें हैं। सबसे अच्छी बात यह कि 500 से कम एक्टिव केस वाले जिलो की संख्या बढ़कर 10 हो गई है और 1000 से ज्यादा एक्टिव केस वाले जिलो की संख्या घटकर 23 रह गई है। मध्य प्रदेश का ओवरऑल पॉजिटिविटी रेट 7.7% रह गया है और 11358 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद टोटल एक्टिव केस 82967 रह गए हैं। चिंता की बात यह है कि 10 जिलों में 24 घंटे में 100 से ज्यादा संक्रमित नागरिक मिले हैं और नाराजगी की बात यह है कि इंदौर एवं भोपाल के हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहे।

मध्य प्रदेश में सबसे खतरनाक स्थिति वाले जिलों की संख्या 23

इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, रतलाम, रीवा, सागर, खरगोन, बैतूल, धार, शिवपुरी, सतना, नरसिंहपुर, होशंगाबाद, शहडोल, सीहोर, रायसेन, सीधी, अनूपपुर, सिंगरौली, दमोह और उमरिया ऐसे जिले हैं जहां कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 1000 से अधिक चल रही है। इंदौर में 13000, भोपाल 13000, ग्वालियर 7000 और जबलपुर 4000 से अधिक के साथ सबसे खतरनाक स्थिति में है।

मध्य प्रदेश के 10 जिले जहां स्थिति नियंत्रण में है 

बुरहानपुर, भिंड, आगर मालवा, अलीराजपुर, अशोकनगर, निवाड़ी, खंडवा, छिंदवाड़ा, टीकमगढ़ और झाबुआ मध्यप्रदेश के ऐसे जिले हैं जहां एक्टिव केस की संख्या 500 से कम है। निश्चित रूप से इन जिलों में कलेक्टर एवं तमाम कोरोना कंट्रोल टीम सफलतापूर्वक काम कर रही है। यह सभी अभिवादन के पात्र हैं।

MADHYA PRADESH COVID19 UPDATE NEWS HEADLINES 18 MAY 2021 

विशेष नोट:- अपने जिले के अस्पतालों में बेड्स की उपलब्धता या कोविड संबंधी अन्य जानकारी एक फोन पर प्राप्त कर सकते हैं। कोविड टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर - 1075 
- मानव अधिकार आयोग ने शिवराज सिंह सरकार को नोटिस जारी करके पूछा है कि तीसरी लहर के लिए क्या तैयारी है। 28 मई तक जवाब मांगा है।
- इंदौर में जिला स्वास्थ्य अधिकारी का ड्राइवर रेडमेसिवीर इंजेक्शन के मामले में गिरफ्तार किया गया है। 
- इंदौर में गिरफ्तार जिला स्वास्थ्य अधिकारी के ड्राइवर ने कहा कि उसने मंत्री की पत्नी के ड्राइवर से इंजेक्शन लिए थे। 
- इंदौर में ब्लैक फंगस के एक मरीज की पत्नी ने वीडियो जारी करके कहा है कि यदि 24 घंटे के भीतर उसे इंजेक्शन नहीं मिला तो वह अस्पताल की छत से कूदकर आत्महत्या कर लेगी। 
- आयुष्मान कार्ड वाले मरीज से ₹200000 नगद जमा कराने के मामले में चिरायु अस्पताल को घुटने टेकने पड़े। परिजनों को ₹200000 वापस किए गए। 
- रेमडेसिवीर लिक्विड वाला इंजेक्शन बाजार में आ गया है और पाउडर वाले इंजेक्शन से ₹1000 सस्ता है। 
- उज्जैन के एसडीएम अपनी ड्यूटी के अलावा नियमित रूप से अस्पताल में CORONA मरीजों की देखभाल एवं इलाज कर रहे हैं, क्योंकि वह एक डॉक्टर भी हैं। 
- भाजपा विधायक जालम सिंह पटेल ने दावा किया है कि जबलपुर के सिटी हॉस्पिटल में उन्हें 6 नकली इंजेक्शन लगाए गए थे। 
- कांग्रेस पार्टी के विधायक एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह ने अपनी निजी फॉर्च्यूनर कार को एंबुलेंस की तरह उपयोग करने के लिए दान कर दिया है। 
- ग्वालियर के सरकारी अस्पताल में कोरोनावायरस के संक्रमण से दो डॉक्टरों की मृत्यु हो गई। 
- शिवपुरी जिले के करैरा तहसील शहर में अनुसूचित जाति के लोगों ने सरकारी अस्पताल में घुसकर 3 डॉक्टरों को बेरहमी से पीटा। 
- सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए हैं कि एग्रेसिव स्ट्रेटेजी अपनाकर कोरोना को समाप्त करें। मोबाइल टेस्टिंग यूनिट चालू करें।
- दिव्यांगों को केवल एक फोन कॉल पर वैक्सीन और तमाम चिकित्सा सुविधाएं मिलेंगी। 
- प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा कोरोना प्रबंधन में मध्यप्रदेश के जन-भागीदारी मॉडल की सराहना। 

MADHYA PRADESH CORONA BULLETIN 18 MAY 2021 DISTRICT WISE STATUS LIST





18 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here