मुख्यमंत्री, इंदौर और सागर के CORONA कंट्रोल सिस्टम, कलेक्टर और प्रभारी मंत्रियों से नाराज - MP NEWS TODAY

भोपाल
। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर और सागर के कोरोनावायरस संक्रमण को कंट्रोल करने के सिस्टम से असंतुष्ट हैं। आज उन्होंने दोनों जिलों को लेकर नेगेटिव कमेंट किए हैं। दरअसल, युद्ध स्तर पर काम करने के बावजूद मध्य प्रदेश के 7 जिलों में संक्रमण की दर 5% से कम नहीं हुई है। 1 जून 2021 को कर्फ्यू हटाने के लिए साप्ताहिक संक्रमण की दर 3% से कम चाहिए। बताने की जरूरत नहीं कि मुख्यमंत्री की नाराजगी दोनों जिलों के कलेक्टर और प्रभारी मंत्री का फेलियर है।

इंदौर में अतिरिक्त प्रयासों की आवश्यकता: मुख्यमंत्री ने कहा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर जिले की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि वहाँ कोरोना संक्रमण तेजी से कम करने के लिए अतिरिक्त प्रयासों की आवश्यकता है। अभी प्रकरणों में गिरावट धीमी है। यदि ऐसा ही रहता है तो 'अनलॉक' करने पर संक्रमण बढ़ सकता है। वार्ड समितियों को सक्रिय किया जाए और संक्रमण रोकने के हर संभव प्रयास किए जाएँ। इंदौर की साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 8.6% तथा आज की पॉजिटिविटी दर 7.2% है। किल-कोरोना अभियान सर्वे के अंतर्गत शहरी क्षेत्र की पॉजिटिविटी दर 8.2% तथा ग्रामीण क्षेत्र की 3.4% है।

सागर की पॉजिटिविटी क्यों बढ़ रही है: सीएम शिवराज सिंह का सवाल

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सागर जिले की समीक्षा के दौरान कलेक्टर से पूछा कि जब पूरे प्रदेश में कोरोना पॉजिटिविटी दर कम हो रही है, तो सागर की पॉजिटिविटी दर क्यों बढ़ रही है? कहाँ ढिलाई है? सागर की आज की पॉजिटिविटी दर 9.9% आई है तथा यहाँ नए 108 प्रकरण आए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिले में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए हर संभव प्रयास करने के निर्देश दिए। उन्होंने बीना रिफायनरी क्षेत्र पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये। 

मध्य प्रदेश के इन सात जिलों में 5% से अधिक पॉजिटिविटी दर

प्रदेश के सात जिलों इंदौर (8.6%), भोपाल (8.4%), सागर (7.3%), रतलाम (7%), रीवा (6.5%), सीधी (5.2%) तथा अनूपपुर (7.3 %) में ही 5% से अधिक साप्ताहिक औसत पॉजिटिविटी दर है। तीन जिलों इंदौर (623), भोपाल (433)  तथा सागर (108 ) में 100 से अधिक नए प्रकरण आए हैं।

26 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here