Loading...    
   


MP में बिना बिल के इंजेक्शन बेचने वाले को L`hX के तहत गिरफ्तार करो: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

भोपाल
। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध रासुका के तहत कार्यवाही की जाए। यानी आज दिनांक 22 अप्रैल 2021 को शाम 3:00 बजे के बाद यदि कोई भी व्यक्ति रेमडेसिविर इंजेक्शन बिना बिल के अथवा अधिकतम खुदरा मूल्य से अधिक पर बेचता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ नेशनल सिक्योरिटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज करके गिरफ्तार किया जाएगा।

कोरोना कर्फ्यू से पॉजिटिविटी रेट कम हुई है: शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू के लिए जिस तरह से जनता आगे आई है और सभी ने सहयोग किया है उससे संक्रमण फैलने की गति कम हुई है। जनता के साथ जनता के सहयोग से कोरोना कर्फ्यू को बनाए रखना जरूरी है। हमारा लक्ष्य प्रदेश की जनता को संक्रमण से बचाना है। अतः घर पर ही रहें अनावश्यक बाहर ना निकले और संक्रमण की चैन को तोड़े। हमारा लक्ष्य है कि प्रदेश के पॉजिटिव हुए लोगों को जल्द से जल्द स्वास्थ्य लाभ मिले।

ऑक्सीजन की आपूर्ति में हर संभव सहयोग मिल रहा है

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जानकारी दी की ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए डीआरडीओ सहित केंद्र सरकार स्तर पर लगातार बातचीत जारी है। ऑक्सीजन की आपूर्ति में हर संभव सहयोग मिल रहा है। कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण और इलाज की व्यवस्था के संबंध में मंत्रियों को सौंपे गए दायित्व का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए।

टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करना आवश्यक है

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए योग से निरोग कार्यक्रम और काढ़ा वितरण जैसी गतिविधियां आरंभ की जा रही हैं। प्रदेश में टीकाकरण को गति दी जा रही है। वैक्सीनेशन के लिए लोगों को प्रेरित करना आवश्यक है। एक मई से 18 साल से अधिक आयु के सभी लोगों का नि:शुल्क टीकाकरण होगा। 

अफवाह उड़ाने वालों के खिलाफ कार्रवाई हो

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास से #Corona संक्रमण की स्थिति पर वर्चुअली उच्च स्तरीय बैठक ली। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी सम्मिलित हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया पर ऑक्सीजन आपूर्ति के संबंध में अफवाह उड़ाने वालों और भ्रामक जानकारियां देने वालों के खिलाफ भी कार्यवाही हो। 

22 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here