Loading...    
   


MADHYA PRADESH के आसमान में 3 तरह के बादल, पढ़िए संडे को क्या होगा - MP WEATHER FORECAST

भोपाल।
मध्यप्रदेश के आसमान में 3 तरह के बादल अपना डेरा जमा चुके हैं। सबसे पहले मानसून ट्रफ लाइन जो गंगानगर से टीकमगढ़, सीधी होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। दूसरे नंबर पर पटना से छत्तीसगढ़ तक बनी बादलों की ट्रफ लाइन जो मध्य प्रदेश के आसमान से गुजर रही है और तीसरा बंगाल की खाड़ी में चक्रवात के कारण बन रहे बादल सीधे मध्यप्रदेश के आसमान पर आ रहे हैं। मौसम विभाग के सरकारी पंडितों ने भविष्यवाणी की है कि रविवार को मध्य प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश होगी। जहां तक संभव हो नदी या झरने के पास पिकनिक प्लान ना करें, घर में है अच्छी सी मूवी और पकोड़े प्लान करें।

मध्यप्रदेश के आसमान पर बादलों के तीन दल कौन-कौन से हैं

वर्तमान में बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवात बना हुआ है। उसके रविवार को कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित होने की संभावना है। पटना से छत्तीसगढ़ तक एक द्रोणिका (ट्रफ) बनी हुई है। मानसून द्रोणिका भी गंगानगर से टीकमगढ़, सीधी होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। 

इन तीन सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आ रही है। इससे राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर बारिश की गतिविधियां हो रही हैं। रविवार को बंगाल की खाड़ी में मौजूद सिस्टम के आगे बढ़ने पर प्रदेश के दक्षिण-पूर्वी क्षेत्र में बरसात का सिलसिला शुरू होने की संभावना है। 

10 सितंबर 2020 को मध्य प्रदेश में कहां कितनी बारिश हुई

शुक्रवार सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक मंडला में 49, रतलाम में 25, उज्जैन में 19, रीवा में 18, इंदौर में 7.1, पचमढ़ी में 7.0, मलाजखंड में 6, छिंदवाड़ा में 4, उमरिया में 2, बैतूल में 1 मिमी बारिश हुई। 

12 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here