Loading...    
   


इंदौर में सेंट रैफल्स स्कूल में फीस को लेकर हंगामा मचा / INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश में निजी स्कूलों द्वारा लगातार फीस भरने के दबाव के बाद अभिभावक लगातार सड़क पर उतरने के साथ ही स्कूल पहुंच रहे हैं। इंदौर में गुरुवार काे फीस माफ करने की मांग लेकर सेंट रेफियल स्कूल के अभिभावक प्रबंधन से मिलने पहुंचे। अभिभावकों का कहना था कि जब क्लास ही नहीं लग रही तो फिर फीस किस बात की। फीस नहीं भरने पर स्कूल वाले बच्चों को ऑनलाइन क्लासेस से वंचित कर रहे हैं। स्कूल कैंपस में भारी विरोध के बाद प्रबंधन ने बच्चों के ऑनलाइन क्लास को फिर से शुरू करने की मांग मान ली। 
 
कृषि महाविद्यालय रोड स्थित सेंट रेफियल स्कूल के खिलाफ नारेबाजी कर रहे अभिभावकों का कहना है कि फीस नहीं भरने पर बच्चों को ऑनलाइन क्लासेस भी वंचित कर देना, उनके भविष्य के हित में नहीं है। कोरोना काल में कई अभिभावकों की नौकरियां चली गई हैं, काम-धंधा पूरी तरह से बर्बाद हो गया है। इस कारण अभिभावक तीन महीने की फीस माफ करने या फिर फीस कम करने की मांग कर रहे हैं। इसी मांग को लेकर अभिभावक स्कूल पहुंचे थे। प्रबंधन के बाहर आकर बात नहीं करने पर जमकर नारेबाजी की गई। मामले मो सुलझाने के लिए पुलिस भी पहुंची।

प्रबंधन से मिलकर बाहर आए अभिभावकों का कहना है कि स्कूल ने हमारी सारी मांगें मान ली हैं। अभी फीस नहीं भर पाने के कारण जो बच्चों को ऑनलाइन पढ़ने से रोक दिया गया था। स्कूल का कहना है कि वे अब बच्चों को पढ़ाएंगे। जब तक मुख्यमंत्री द्वारा कोई आदेश नहीं आता क्लास चलती रहेंगी। इसके अलावा एग्जाम से भी वंचित नहीं किया जाएगा। 28 अगस्त को मुख्यमंत्री के एक दिनी दौरे के दौरान भी कुछ अभिभावकों ने उनके काफिले को रोककर फीस के मुद्दे को सुलझाने का आह्वान किया था। जिसके एक दिन बाद मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से अधिकारियों को इस संबंध में बात करने को कहा था। इसे लेकर सीएम ने ट्वीट भी किया था।

03 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्यप्रदेश में 10+2 स्कूल खुलेंगे, प्राइमरी और मिडिल बंद रहेंगे, आदेश जारी
IGNOU EXAM: फाइनल ईयर/ सेमेस्टर के लिए नोटिफिकेशन
कमलनाथ का कबीला ग्वालियर में ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी बड़ा धमाका करने की तैयारी में
ज्योतिरादित्य सिंधिया मुश्किल में: हाईकोर्ट ने निर्वाचन रद्द करने का नोटिस भेजा
गर्मी के पसीने और और व्यायाम के पसीने में क्या अंतर है
चीटियां क्या सचमुच अनुशासन में चलतीं है या फिर एक दूसरे के पीछे चलना उनकी मजबूरी है
रोऊंगा नहीं; कहीं से भी लाना पड़े, पैसा ले आऊंगा: सीएम शिवराज सिंह
BF ने GF से कैंसर पीड़ित पिता के लिए खून बदले आबरू ले ली
खनिज अधिकारी की वाइफ के बंगले में मिनी बार, बाथरूम में AC
जौहरी होटल भोपाल में नाबालिग लड़के-लड़कियों की हुक्का पार्टी
मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान जारी, वीकेंड की प्लानिंग कर लें
INDORE में वेब सीरीज के नाम पर लड़कियों से न्यूड वीडियो मंगवाए जाते थे
भारतीय ट्रेनों में एसी कोच बीच में क्यों होता है
MP BY-ELECTION: ग्वालियर-चंबल में दिग्विजय सिंह की सक्रियता
कोरोना के कारण 8वीें तक का पाठ्यक्रम संक्षिप्त किया
भोपाल में डॉक्टर ब्लैकमेलिंग के मामले में चैनल के ऑफिस पहुंची क्राइम ब्रांच
इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया
यदि रेल की पटरी में करंट का तार लगा दें तो क्या होगा
IAS जोशी दंपति की 100 से ज्यादा संपत्तियां कुर्क करने का आदेश जारी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here