Loading...    
   


GWALIOR मेें सरकारी कर्मचारियों का रेंडम एंटीजन टेस्ट होगा / EMPLOYEE NEWS

ग्वालियर। राज्य व केन्द्र सरकार के शहर में संचालित हो रहे सभी कार्यालयों में काम करने वाले अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों तक को कोरोना का वायरस अपना शिकार बना रहा है। कोरोना संक्रमित निकलने के कारण सरकारी कामकाज भी प्रभावित हो रहा है। ऐसे में अब जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संकमण रोकने के लिए सरकारी विभागों में निश्चित समय अंतराल पर कार्यरत अधिकारियों से लेकर चतुर्थश्रेणी कर्मचारियों का जल्द ही एंटीजन रैपिड टेस्ट से सैंपल कराएगा। जिससे इस जानलेवा संक्रमण को रोका जा सकेगा।

मिली जानकारी के अनुसार शहर में तेजी से बढ़ रही कोरोना पॉजीटिव मरीजों की संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन अब वार्ड लेवल स्तर रैपिड एंटीजन टेस्ट के साथ ही आरटीपीसीआर दोनों प्रकार के टेस्ट कराने के लिए पूल सैंपलिंग के लिए कैंप लगाएगा। वहीं सरकारी महकमों में काम करने वाले कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए भी कलेक्टर के निर्देश पर जिले में संचालित हो रहे सभी सरकारी विभागों में रैपिड एंटीजन टेस्ट जल्द कराएगा। संक्रमण को रोकने के लिए तैयार किए गए प्लान का जिम्मा डीएम कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सीएमएचओ को सौंपा है।

बैंकों से लेकर सीएमएचओ तक पहुंचा कोरोना-

जिले में कोरोना तहसील, कलेक्ट्रेट, सेल टैक्स, नगर-निगम, सिंचाई, बिजलीघर, जिला पंचायत सहित बैंकों, केन्द्रीय सरकार के आयकर, नारकोटिक्स व अन्य विभागों में पहुंचकर अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों को शिकार बना चुका है। प्रशासन की मंशा जल्द से जल्द जिले से कोरोना संक्रमण का खात्मा करने की है।

01 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

नवजात शिशु की मुट्ठी बंद क्यों रहती है, क्या उसमें सचमुच भाग्य छुपा होता है
कमलनाथ ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को 212 करोड रुपए की सरकारी जमीन ₹100 में दी थी
BF ने शादी से मना किया, रेप केस दर्ज / लड़का बोला ब्लैकमेल कर रही है
जब यह इमारत जमीन पर खड़ी है तो इसे 'हवामहल' क्यों कहते हैं
संपत्ति की सुरक्षा का अधिकार कब प्रारंभ होता है और कब तक बना रहता है
9 वोल्ट की बैटरी से 9 वाट का LED बल्ब कितनी देर तक जलेगा
ग्वालियर वाले रेल अफसर की बेटी ने माँ-भाई को गोली मारी, शीशे पर लिखा डिस्क्वालीफाइड ह्यूमन
क्या आप एक शब्द में भारत की सभी विश्व सुंदरियों के नाम बता सकते हैं, यहां पढ़िए
JEE-NEET 2020 परीक्षार्थियों को सरकार की तरफ से फ्री कन्वेंस मिलेगा
प्रणब मुखर्जी: मध्यप्रदेश में 7 दिन का राजकीय शोक


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here