Loading...    
   


ज्योतिरादित्य सिंधिया का तिरंगा दुपट्टा क्या कांग्रेस की कलह में राहुल गांधी को सपोर्ट कर रहा था / NATIONAL NEWS

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह से नाराज होकर कांग्रेस पार्टी से भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए ग्वालियर के प्रभावशाली नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भारतीय जनता पार्टी के विशाल सदस्यता अभियान में शामिल थे। इस दौरान उन्होंने गले में तिरंगा दुपट्टा पहन रखा था। ज्योतिरादित्य सिंधिया एक मंझे हुए पॉलिटिकल प्लेयर हैं, तिरंगा दुपट्टा गलती से गले में नहीं आया था। सवाल यह है कि क्या उनके गले में लगा हुआ तिरंगा दुपट्टा देशभर में शुरू हुई कांग्रेस की कलह में राहुल गांधी को सपोर्ट कर रहा था। 

कांग्रेस पार्टी में कौन सी कलह चल रही है 

दरअसल, कांग्रेस पार्टी में राहुल गांधी के समर्थकों ने सोनिया गांधी और उनकी टीम पर हल्ला बोल कर दिया है। वह चाहते हैं कि सोनिया गांधी इस्तीफा दे और राहुल गांधी कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष पद संभाले। पूरे देश में कांग्रेस पार्टी दो हिस्सों में बंटी हुई दिखाई दे रही है। दोनों गुटों के नेता खुलकर मैदान में आ गए हैं। मीडिया और सोशल मीडिया के जरिए सोनिया गांधी को अध्यक्ष पद पर बनाए रखने और सोनिया गांधी को हटाकर राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने का अभियान शुरू हो चुका है। 

कांग्रेस की कलह से अब ज्योतिरादित्य सिंधिया का क्या लेना-देना 

दरअसल, ज्योतिरादित्य सिंधिया को सोनिया गांधी एंड टीम की वजह से ही कांग्रेस पार्टी छोड़नी पड़ी। 2018 का विधानसभा चुनाव सभी ने मिलकर लड़ा लेकिन मुख्यमंत्री की कुर्सी पर सोनिया गांधी के विश्वासपात्र कमलनाथ बैठ गए। इतना ही नहीं सोनिया गांधी के कमलनाथ ने राहुल गांधी के ज्योतिरादित्य सिंधिया को कई बार अपमानित किया। यहां तक की राजधानी भोपाल में एक सरकारी बंगला तक नहीं दिया। 2018 के विधानसभा चुनाव प्रचार के समय जो राहुल गांधी 10 दिन में मुख्यमंत्री बदलने की बात कर रहे थे, लोकसभा चुनाव के बाद लाचार, मजबूर और सन्यासी जैसे नजर आए। मात्र 15 महीने में हालात यह बन गए कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को वह फैसला लेना पड़ा जो दिग्विजय सिंह के कारण उन्होंने कभी नहीं लिया था।

24 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

इंदौर की लड़की से लंदन वाले BF ने गिफ्ट के नाम पर 4 लाख रूपये ठग लिए
चेक बाउंस होने पर क्या कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं, क्या थाने में FIR लिखवा सकते हैं
सोयाबीन में पीला मोजेक पर नियंत्रण के लिए क्या करें
रसोई गैस सिलेंडर में आग लग जाए तो क्या करें, यहां पढ़िए, हमेशा ध्यान रखिए
दुनिया के सबसे धनवान लोगों की कुर्सी किस लकड़ी से बनी होती है, यहां पढ़िए
क्या हम अपने मकान को स्मार्ट होम बना सकते हैं, पढ़िए क्या चेंज कर सकते हैं
इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया, प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज
क्या आपको सुरक्षा के लिए दूसरे पर हमला करने का हक है, पढिए कानून क्या कहता है
जबलपुर में GF से मिलने पहुंचे युवक को मोहल्ले वालों ने पीट-पीटकर अधमरा कर डाला
जबलपुर में अस्पताल से कूदकर आत्महत्या कर रहे कोविड-19 मरीज को बचाया
मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री कोरोना पॉजिटिव, कल ही सैंकड़ों कर्मचारियों से मिले थे
ग्वालियर के वीर जयभान सिंह पवैया अब महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया की शरण में


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here