Loading...    
   


ग्वालियर के वीर जयभान सिंह पवैया अब महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया की शरण में / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। एक पुरानी कहावत है 'राजनीति की मजबूरियां बिगड़े से बिगड़े घोड़े की नाक में नकेल डाल देती है।' यह चित्र कुछ ऐसा ही नजर आ रहा है। जवान सिंह पवैया जिनकी पहचान और अस्तित्व ही सिंधिया राजवंश और सामंतवाद का विरोध रहा है, आज ग्वालियर के महाराज श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया की शरण में नजर आए। प्राप्त हुए इस फोटोग्राफ्स में ज्योतिरादित्य सिंधिया, अपने पिता के कट्टर विरोधी रहे जय भान सिंह पवैया के कंधे पर हाथ रखे हुए नजर आ रहे हैं। कुछ सालों पहले तक जवान सिंह पवैया सीना तान कर के जैसे कि उन्होंने ग्वालियर को सिंधिया की गुलामी से मुक्त कराया है। छोटा सा सवाल है, आज के बाद क्या कहेंगे।

जयभान सिंह पवैया सिंधिया समर्थकों का प्रचार करेंगे, उनके लिए वोट मांगेंगे

अंततः बजरंग दल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं ग्वालियर के दिग्गज भाजपा नेता जयभान सिंह पवैया आज से ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने से नाराज नहीं हैं। मुख्यमंत्री से आधे घंटे की बातचीत के बाद अब वे उपचुनाव की तैयारियों में लग जाएंगे। इतना ही नहीं उपचुनाव में भी घर-घर जाकर सिंधिया समर्थक प्रत्याशियों के लिए वोट मांगेगे।

जय भान सिंह पवैया की पहचान ही सिंधिया विरोध थी

जयभान सिंह पवैया की राजनीति ग्वालियर में सिंधिया परिवार के विरोध में रही है। जयभान सिंह पवैया पिछला चुनाव सिंधिया के खास समर्थक प्रद्युम्न सिंह तोमर से हार गए थे। प्रद्युम्न सिंह जीतने के बाद कांग्रेस सरकार में मंत्री बने। कांग्रेस सरकार के पतन के दौरान विधायकी छोड़ भाजपा में शामिल हो गए।

कभी माधवराव सिंधिया को ग्वालियर से खदेड़ा था, आज अपनी ही विधानसभा अपने पास नहीं रही

मंत्री प्रद्युम्न सिंह ग्वालियर से अब चुनाव लड़ेंगे। ये क्षेत्र जयभान सिंह पवैया का भी गढ़ है। इसी बात को लेकर पवैया पार्टी से नाराज चल रहे थे। भाजपा ने पवैया की नाराजगी दूर करने के लिए उन्हें प्रदेश समन्वय की जिम्मेदारी थी। लेकिन पवैया पार्टी के प्रदेश कार्यालय में होने वाली एक भी बैठक में नहीं आए और पार्टी से दूरी बना ली। चुनाव से पहले इस तरह से एक दिग्गज नेता के नाराज होने से भाजपा को बगावत का डर सता रहा था।

शिवराज सिंह से आधे घंटे चर्चा हुई और आत्म सम्मान का सौदा हो गया

दो दिन के लिए ग्वालियर पहुंच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने रविवार को जयभान पवैया को खुद फोन कर बुलाया और उनसे एकांत में करीब आधा घंटे चर्चा की। इसके बाद दोनों भाजपा के कार्यक्रम में शामिल होने चले गए। यहां ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रभात झा भी मौजूद थे। सभी का आमना-सामना हुआ। सिंधिया ने पवैया से पहले नमस्कार किया और उनके कंधे पर प्यार से हाथ रखा। बताया जा रहा है कि सिंधिया और पवैया की अलग से मुलाकात आज रात तक हो सकती है।

23 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

इंदौर की लड़की से लंदन वाले BF ने गिफ्ट के नाम पर 4 लाख रूपये ठग लिए
चेक बाउंस होने पर क्या कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं, क्या थाने में FIR लिखवा सकते हैं
बड़ी खबर! गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कमलनाथ के घर जाकर बधाई दी
सोयाबीन में पीला मोजेक पर नियंत्रण के लिए क्या करें
भोपाल में बारिश का 14 साल पुराना रिकॉर्ड टूटा
रसोई गैस सिलेंडर में आग लग जाए तो क्या करें, यहां पढ़िए, हमेशा ध्यान रखिए
दुनिया के सबसे धनवान लोगों की कुर्सी किस लकड़ी से बनी होती है, यहां पढ़िए
क्या हम अपने मकान को स्मार्ट होम बना सकते हैं, पढ़िए क्या चेंज कर सकते हैं
इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया, प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज
क्या आपको सुरक्षा के लिए दूसरे पर हमला करने का हक है, पढिए कानून क्या कहता है
जबलपुर में GF से मिलने पहुंचे युवक को मोहल्ले वालों ने पीट-पीटकर अधमरा कर डाला
कमलनाथ ने तो 15 महीने पहले ही मंत्रालय लॉक डाउन कर दिया था: ज्योतिरादित्य सिंधिया
मध्यप्रदेश में बारिश के साथ रिकॉर्ड तोड़ कोरोना: पॉजिटिव और मौतें
टीकमगढ़ डिप्टी कलेक्टर का एक्सीडेंट, सागर के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती
इंदौर: उफनते नाले में 6 घंटे जाली से लटका रहा, सरकारी मदद नहीं आई समाजसेवियों ने बचाया
ग्वालियर में अलसुबह से ही पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को उठाना शुरू कर दिया था
जबलपुर में अस्पताल से कूदकर आत्महत्या कर रहे कोविड-19 मरीज को बचाया
मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री कोरोना पॉजिटिव, कल ही सैंकड़ों कर्मचारियों से मिले थे
DElEd प्रैक्टिकल परीक्षा की अधिसूचना
शिवपुरी की लड़की का ग्वालियर के होटल में रेप
चयनित शिक्षकों ने डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए ग्वालियर में प्रदर्शन किया
कमलनाथ ने तो 15 महीने पहले ही मंत्रालय लॉक डाउन कर दिया था


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here